चीखती रही, गिड़गिड़ाती रही, पांव भी पकड़े लेकिन आंखों के सामने ले ली जान… रुला देगी हैदराबाद की घटना

हैदराबाद: हैदराबाद में गुरुवार को एक दिल दहला देने वाला मामाला सामने आया। यहां एक दलित युवक को मुस्लिम युवती से शादी करना भारी पड़ा। लड़की के घरवालों ने उसे पीट-पीटकर मौत के घाट उतार दिया। हैरानी वाली बात है कि यह घटना सरेराह हुई, महिला वहां मौजूद लोगों से हाथपांव जोड़ती रही, रोती रही, गिड़गिड़ाती रही लेकिन कोई उसकी मदद को नहीं आया। आखिर युवक की जान चली गई और उसे खून से लथपथ छोड़कर आरोपी वहां से भाग गए।

घटना सरूरनगर में बुधवार रात को घटी। महिला ने अपने घरवालों की मर्जी के खिलाफ जाकर दलित युवक से शादी की थी। महिला के घरवाले इसी बात से नाराज थे। बुधवार की रात को वह अपने पति के साथ स्कूटर पर जा रही थी तभी महिला के भाई और कुछ रिश्तेदारों ने उनके ऊपर हमला किया।
सिग्नल पर रुकते ही लोहे की रॉड से हमला
घटना के बाद युवती ने जो बयां किया वह दिल दहला देने वाला है। युवती ने बताया कि वे लोग सिग्नल पर खड़े थे तभी उसके भाई समेत पांच लोग वहां आए। उन्होंने लोहे की रॉड से उसके पति का पीटना शुरू कर दिया। वह चीखती रही और उन लोगों के हाथपांव जोड़ती रही कि उसे छोड़ दें लेकिन उनका दिल नहीं पसीजा।
‘मैंने कहा छोड़ दूंगी, जहां कहोगे कर लूंगी शादी’
घटना के बाद से अपनी सुदबुद खो चुकी महिला बार-बार अब यही कहती है, ‘उन्होंने मेरे पति को मेरी आंखों से सामने मार दिया।’ ‘उन्होंने मेरी आंखों से सामने उन्हें मार डाला, मैं कुछ नहीं कर सकी।’ महिला ने रोते हुए कहा, ‘वहां सिग्नल पर बहुत सारे लोग थे, वे लोग उन्हें पीटते रहे, मैंने उनसे कहा कि मैं उसे छोड़ दूंगी….. जिससे आप कहेंगे मैं उससे शादी कर लूंगी लेकिन उन्होंने मेरी एक नहीं सुनी। उन्होंने उसे इसलिए मार दिया क्योंकि मैंने उससे शादी की थी।’
‘कोई मदद को नहीं आया’
महिला ने कहा, ‘मैंने वहां मौजूद लोगों से मदद मांगी लेकिन कोई मदद करने नहीं आया। पुलिस भी वहां नहीं थी। मैं चीखती रही, मदद मांगती रही लेकिन कोई मदद को नहीं आया। मुझे इंसाफ चाहिए। मुझे इंसाफ चाहिए। मैं क्या कहूं…बस मुझे इंसाफ चाहिए।’
‘पैरों में लिपटकर मांगी जान की भीख’
पीड़िता ने बताया, ‘मैंने सिग्नल पर रुके लोगों के पैर पकड़े, उनसे मदद मांगती रही। उनसे कहा मेरे पति को बचा लो लेकिन कोई मदद को नहीं आया। मैं बार-बार अपने भाई और लोगों के पास जाकर उन्हें छोड़ने को कह रही थी। मैंने उनसे कहा कि अगर इसे मार दिया तो मैं भी मर जाऊंगी अगर आप लोगों ने इसे मार दिया तो मैं भी जिंदा नहीं रहूंगी लेकिन उन्होंने एक नहीं सुनी। मैंने उनसे यह भी कहा कि मैं इन्हें छोड़ दूंगी, किसी और से शादी कर लूंगी। जिससे कहेंगे उससे शादी कर लूंगी। लेकिन उन्होंने नहीं सुनी।’
क्या है मामला?
25 साल के नागराज हैदराबाद के बिल्लापुरम में रहते थे। उन्‍होंने 23 साल की सैयद सुल्ताना से दो महीने पहले ही शादी की थी। दोनों एक दूसरे को 11 साल से जानते थे। इस हत्या के कई वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे हैं। खून से लथपथ सड़क पर पड़ी लाश से लेकर महिला के गिड़ड़ाने तक के वीडियो सामने आए हैं।
Screaming, begging, holding her feet but took her in front of her eyes … the incident in Hyderabad will make her cry

 

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

रुपयों से भर जाएगी झोली गुरुवार की शाम को करें गुड़ का ये छोटा-सा उपाय

कोलकाता : गुरुवार के दिन बृहस्पति देव की पूजा करने एवं व्रत रखने से व्यक्ति की सारी मनोकामनाएं पूर्ण होती है। अगर इस दिन कुछ आगे पढ़ें »

ऊपर