सुप्रीम कोर्ट की फटकार के बाद दिल्ली में स्कूल अनिश्चितकाल के लिये बंद

नई दिल्ली: सुप्रीम कोर्ट द्वारा पूछे गए सवालों के बाद दिल्ली की केजरीवाल सरकार ने कल से राजधानी के सभी स्कूलों को अनिश्चितकाल तक बंद रखने का फैसला किया है। दिल्ली के पर्यावरण मंत्री गोपाल राय ने कहा, ‘दिल्ली में बढ़ते वायु प्रदूषण के कारण सभी स्कूलों को कल से अगले आदेश तक बंद करने का फैसला किया गया है।’ इससे पहले सुप्रीम कोर्ट ने वायु गुणवत्ता प्रबंधन के लिए एक आयोग होने की उपयोगिता पर सवाल उठाया। अदालत ने सरकार को वायु प्रदूषण पर अंकुश लगाने के लिए ठोस उपाय करने के लिए 24 घंटे का समय दिया था।
कोर्ट ने ‘रेड लाइट ऑन, गाड़ी ऑफ’ मुहिम को लेकर दिल्ली सरकार को फटकार लगाते हुए कहा कि यह लोकलुभावन नारा होने के अलावा और कुछ नहीं है। मुख्य न्यायाधीश एन वी रमण, जस्टिस डी वाई चंद्रचूड़ और जस्टिस सूर्य कांत की विशेष पीठ ने कहा कि आम आदमी पार्टी (आप) सरकार ने पिछली सुनवाई में घर से काम करने, लॉकडाउन लागू करने और स्कूल एवं कॉलेज बंद करने जैसे कदम उठाने के आश्वासन दिए थे, लेकिन इसके बावजूद बच्चे स्कूल जा रहे हैं और वयस्क घर से काम कर रहे हैं।
हलफनामों पर सवाल कोर्ट ने सरकार से तीखे सवाल करते हुए कहा, ‘बेचारे युवक बैनर पकड़े सड़क के बीच खड़े होते हैं, उनके स्वास्थ्य का ध्यान कौन रख रहा है? हमें फिर से कहना होगा कि यह लोकलुभावन नारे के अलावा और क्या है?’ दिल्ली सरकार की ओर से वरिष्ठ अधिवक्ता अभिषेक मनु सिंघवी ने हलफनामे का हवाला देते हुए कहा कि सरकार ने विभिन्न कदम उठाए हैं। इस पर पीठ ने टिप्पणी की, ‘यह प्रदूषण का एक और कारण है, रोजाना इतने हलफनामे।’
शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

स्कूल खाेलने के लिए शिक्षा विभाग ने नवान्न से मांगा सुझाव

सन्मार्ग संवाददाता काेलकाता : राज्य का शिक्षा विभाग अब स्कूलों को खोलनेे पर विचार कर रहा है। गत शुक्रवार को इस संबंध में राज्य के मुख्य आगे पढ़ें »

ऊपर