करणी सेना के आगे हारे पृथ्वीराज के मेकर्स, अक्षय कुमार की फिल्म का बदला नाम

नई दिल्ली :  अक्षय कुमार की आगामी फिल्म ‘पृथ्वीराज’ का शीर्षक बदल दिया गया है। प्राप्त जानकारी के मुताबिक अब इसका नया नाम ‘सम्राट पृथ्वीराज’ रख दिया गया है। बता दें कि करणी सेना की एक जनहित याचिका के बाद यह कदम उठाया गया है। फिल्म के निर्माताओं, वाईआरएफ ने करणी सेना के अध्यक्ष को एक आधिकारिक पत्र लिखा है, जिसमें उन्हें इस बात की जानकारी दी है।
क्या था पूरा मामला?
करणी सेना का प्रतिनिधित्व कर रहे अधिवक्ता राघवेंद्र मेहरोत्रा ने पृथ्वीराज के मेकर्स को कानूनी नोटिस भेजते हुए एक जनहित याचिका दायर की थी। इस याचिका में करणी सेना ने फिल्म के नाम में बदलाव करने की मांग करते हुए कहा था कि राजपूत समुदाय फिल्म के शीर्षक की वजह से आहत है। जिसके बाद कई बैठकें हुईं और आखिरकार 27 मई को, पृथ्वीराज निर्माताओं वाईआरएफ ने राजपूत समुदाय की भावना और मांग को ध्यान में रखते हुए, फिल्म का नाम पृथ्वीराज से सम्राट पृथ्वीराज में बदलने पर सहमति व्यक्त की।
सामने आया यशराज फिल्म्स का बयान
यशराज फिल्म्स ने करणी सेना के अध्यक्ष को एक आधिकारिक पत्र में लिखते हुए इस बात का उल्लेख किया कि पृथ्वीराज का नाम अब सम्राट पृथ्वीराज में बदल गया है। वायआरएफ ने लिखा, “प्रिय महोदय, हम, यश राज फिल्म्स प्राइवेट लिमिटेड, 1970 के दशक में अपनी स्थापना के बाद से अग्रणी प्रोडक्शन हाउस और वितरण कंपनियों में से एक रहे हैं और भारत के सबसे बड़े फिल्म स्टूडियो में से एक के रूप में विकसित हो रहे हैं। हम सभी दर्शकों के आनंद के लिए लगातार कंटेंट बनाने के लिए प्रतिबद्ध हैं।”
यश राज फिल्म ने कि करणी सेना की सराहना
वायआरएफ आगे लिखते हैं, “हम फिल्म के वर्तमान शीर्षक के संबंध में आपकी शिकायत और आपके प्रयास की ईमानदारी से सराहना करते हैं, और आपको विश्वास दिलाते हैं कि हमने किसी भी व्यक्ति (व्यक्तियों) की भावनाओं को आहत करने या अनादर करने के लिए ऐसा नहीं किया था। वास्तव में, हम इस फिल्म के माध्यम से दिवंगत राजा और योद्धा, पृथ्वीराज चौहान की बहादुरी, उपलब्धियों और हमारे देश के इतिहास में योगदान का जश्न मनाना चाहते हैं।”

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

दुर्गापूजा से पहले नये कलेवर में सजेगा बंगाल का होम स्टे

 नजर होम स्टे पर 80% होम स्टे उत्तर बंगाल में हैं, 20% दक्षिण बंगाल में इन जगहों पर हैं होम स्टे कलिम्पोंग दार्जिलिंग कर्सियांग जलपाईगुड़ी अलीपुरदुआर का डुआर्स बांकुड़ा पुरुलिया हुगली बंगाल में होम स्टे की आगे पढ़ें »

ऊपर