सेल्समैन की बीवी छोड़कर चली गई, दूसरी महिला के दरवाजे पर जाकर हस्तमैथुन करने लगा

बांद्राः मुंबई की बांद्रा पुलिस को एक महिला से शिकायत मिली कि कोई शख्स उनके घर के सामने हस्तमैथुन कर रहा है।  पुलिस जब तक मौके पर पहुंची आरोपी वहां से जा चुका था। आठ दिन बाद आरोपी फिर लौटा। इस बार पुलिस ने उसे धर दबोचा। शख्स के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया गया है। एक रिपोर्ट के मुताबिक, आरोपी का नाम अली अहमद सैयद है। उम्र 42 साल। वो पेशे से एक सेल्समैन है। बांद्रा पुलिस ने गुरूवार, 12 जनवरी को उसे गिरफ्तार किया। अली एक कॉलेज ड्रॉपआउट है। पुलिस ने बताया कि उसकी पत्नी उसे तीन साल पहले छोड़कर चली गई थी और वो अकेला रहता है।

पीड़ित महिला बांद्रा के चैपल रोड में रहती है। बांद्रा पुलिस के मुताबिक, घटना 4 जनवरी की है। दोपहर करीब 1.30 बजे महिला ने पुलिस को फोन किया और बताया कि एक व्यक्ति उनके दरवाजे के बाहर मास्टरबेट कर रहा है। पुलिस के पहुंचने तक आरोपी जा चुका था। पुलिस ने कार्रवाई करते हुए महिला का बयान दर्ज किया और अज्ञात व्यक्ति के खिलाफ मामला दर्ज किया।

बांद्रा पुलिस स्टेशन के एक अधिकारी ने बताया- महिला ने हमें बताया कि उनके दरवाजे की घंटी बजी। जब उन्होंने पीपहोल से झांककर देखा तो आरोपी बाहर हस्तमैथुन कर रहा था। हमने बिल्डिंग के सीसीटीवी फुटेज चेक किए हैं। उसमें आरोपी हस्तमैथुन करता दिख रहा है। हालांकि कैमरे की खराब क्वालिटी के चलते आरोपी का चेहरा दिखाई नहीं दिखाई दिया। इसके बाद महिला की मदद से पुलिस ने आरोपी का स्केच तैयार किया। इलाके में गश्त कर रही पुलिस को वो स्केच दिया गया। पुलिस को शक था कि आरोपी उस जगह पर वापस आ सकता है। 11 जनवरी को आरोपी वहां वापस आया। तब पुलिस ने उसे कस्टडी में लिया और पूछताछ की। आरोपी की संलिप्तता साबित होने के बाद अगले दिन सुबह उसे गिरफ्तार कर लिया गया। सैयद के खिलाफ पहले का कोई मामला अब तक सामने नहीं आया है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

मंगलवार को 11 पीपल के पत्तों से ऐसे करें …

कोलकाताः हिंदू धर्म में मंगलवार का दिन सबसे शुभ दिन में से माना जाता है। इस दिन हनुमान जी की पूजा की जाती है। भगवान आगे पढ़ें »

मैं कोलकाता में ही हूं, ईडी कार्यालय में फोन कर कहा ​अभियुक्त गोपाल दलपति ने

सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता : मैं कोलकाता में हूं, मैं ईडी के समक्ष पेश होना चाहता हूं। एसएससी मामले के अभियुक्त गोपाल दलपति ने ईडी कार्यालय में आगे पढ़ें »

ऊपर