भारत में जल्द मिलेगी एक डोज वाली रूसी वैक्सीन

हैदराबाद : भारत के आम नागरिकों को जल्द ही रूस की एक डोज वाली स्पुतनिक-वी वैक्सीन मिलना शुरू हो जाएगी। आज स्पूतनिक-वी वैक्सीन का दूसरी खेप हैदराबाद आ गई है। इससे पहले टीके पहली खेप एक मई को भारत पहुंची थी। 13 मई को सेंट्रल ड्रग लेबोरटरी, कसौली से वैक्सीन को मंजूरी मिल चुकी है। वैक्सीन की आपूर्ति भारतीय मैन्युफैक्चरिंग पार्टनर्स से शुरू होगी। अगले हफ्ते से देश में स्पुतनिक वैक्सीन लगनी शुरू हो सकती है। जुलाई से स्पुतनिक का देश में उत्पादन शुरू होने लगेगा। फिलहाल देश में टीकाकरण अभियान में दो वैक्सीन का इस्तेमाल किया जा रहा है। सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया की कोविशील्ड और भारत बायोटेक की कोवैक्सीन का इस्तेमाल हो रहा है। स्पुतनिक वी को रूस के गामालेया नेशनल सेंटर द्वारा विकसित किया गया है।

भारत में रूस के राजदूत निकोले कुदाशेव ने कहा, रूस के विशेषज्ञों ने इस बात की घोषणा की है कि ये वैक्सीन कोविड के नए स्ट्रेन के लिए भी कारगर है। वैक्सीन की कीमत वर्तमान में 948 रुपये और 5 फीसदी जीएसटी प्रति डोज के एमआरपी पर है।
इस साल 85 करोड़ डोज का होगा उत्पादन

रशियन डायरेक्ट इन्वेस्टमेंट फंड के सीईओ किरिल्ल दमित्रिएव ने कहा, “स्पुतनिक-V रूस-भारत की एक वैक्सीन है। इसके एक बड़े हिस्सा का उत्पादन भारत में किया जाएगा। हम यह उम्मीद करते हैं कि इस साल भारत में स्पुतनिक-V के 85 करोड़ से ज्यादा वैक्सीन का निर्माण किया जाएगा। हम जल्द भारत में स्पुतनिक-V लाइट वैक्सीन के लगाने की उम्मीद करते हैं।”

शेयर करें

मुख्य समाचार

पैरेंट्स ने नहीं दिलाया कुत्ता तो बेटे ने कर ली…

विशाखापट्टनम : एक नाबालिग लड़के ने सिर्फ इसलिए खुदकुशी कर ली कि उसे माता-पिता ने घर में पालने के लिए कुत्ता लाने से मना कर आगे पढ़ें »

5000 हेल्थ अस्टिटेंट को दी जाएगी मरीजों की देखभाल की ट्रेनिंग : केजरीवाल

नई दिल्ली : राज्यों ने जानलेवा कोरोना वायरस की संभावित तीसरी लहर से निपटने की तैयारी शुरू कर दी है। इसी क्रम में दिल्ली सरकार भी आगे पढ़ें »

ऊपर