रोहिणी कोर्ट के बाहर विस्फोट, करीब 4 लोग घायल

दिल्ली के रोहिणी कोर्ट नंबर 102 के बाहर गुरुवार सुबह उस वक्त हड़कंप मच गया जब एक धमाका हुआ जिसमें तीन से चार लोग घायल हो गए। लोगों को लगा था कि फिर से कोर्ट में गोली चली है। धमाका की आवाज सुनते ही कोर्ट में मौजूद लोगों में डर बैठ गया और जो जहां था वहां से सुरक्षित स्थान पर पहुंचने की कोशिश करने लगा। हालांकि कुछ देर बाद खुलासा हुआ कि यह धमाका एक लैपटॉप में हुआ था जिसका कारण शॉर्ट सर्किट था। इसके बाद भी लोग दहशत में रहे। एहतियात के तौर पर कोर्ट की सभी कार्यवाही रोक दी गई है। अब पुलिस मामले की जांच कर रही है और किसी भी तरह की लापरवाही न हो इसका भी ध्यान रख रही है। दिल्ली पुलिस का कहना है कि रोहिणी कोर्ट में अदालत की कार्यवाही के दौरान एक लैपटॉप बैग में संदिग्ध विस्फोट हुआ। एक घायल व्यक्ति को अस्पताल में भर्ती कराया गया है। साक्ष्य जुटाने के लिए घटनास्थल को घेरे में लिया गया है। फोरेंसिक और राष्ट्रीय सुरक्षा गार्ड की टीमें घटनास्थल का निरीक्षण कर रही हैं। अब तक मिली जानकारी के अनुसार जब कोर्ट में धमाके की आवाज सुनी गई तो अफवाह फैल गई कि कोर्ट में गोली चली है। कुछ दिन पहले हुई गोलीबारी की घटना जेहन में आते ही लोगों में हड़कंप मच गया। जब धमाके की बात पता चली तो तुरंत दमकल विभाग को सूचना दी गई जिसके बाद दमकल की छह गाड़ियां मौके पर पहुंच गईं। जो लोग घायल हुए ते उन्हें एंबुलेंस की मदद से नजदीक के हॉस्पिटल में भर्ती करवाया गया, जहां उनका इलाज किया जा रहा है। घटना के बाद रोहिणी जिले के डीसीपी और एसीपी आरती शर्मा पुलिस फोर्स के साथ रोहिणी कोर्ट पहुंच गईं। जांच टीम इस मामले में कोई लापरवाही नहीं करना चाहती इसलिए जांच के बाद ही धमाके को लेकर कोई औपचारिक पुष्टि करेगी विस्टोफ कैसे और किसमें हुआ। अभी तक यह धमाका संदिग्ध ही बताया जा रहा है। मौके पर क्राइम और एफएसएल टीम दोनों ही मौजूद हैं।

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

ब्रेकिंग : वरिष्ठ आईएएस अधिकारी नंदिनी चक्रवर्ती को राज्यपाल क़ा प्रिंसिपल सेक्रेटरी बनाया गया

कोलकाता : इस वक्त की बड़ी खबर आ रही है कि वरिष्ठ आईएएस अधिकारी नंदिनी चक्रवर्ती को राज्यपाल क़ा प्रिंसिपल सेक्रेटरी बनाया गया। आगे पढ़ें »

ऊपर