रेलवे का बड़ा फैसला, अब जनरल टिकट से करें स्लीपर में सफर, नहीं देना होगा कोई चार्ज!

नई दिल्लीः ट्रेन से सफर करने वालों के लिए बड़ी खुशखबरी है, रेलवे यात्रियों की सुविधाओं को ध्यान में रखते हुए कई तरह की फैसिलिटी देता है। अब आप जनरल टिकट में स्लीपर कोच में सफर कर सकते हैं और खास बात यह है कि इसके लिए आपको एक भी एक्सट्रा चार्ज नहीं देना होता है। इंडियन रेलवे ने देशभर में कड़ाके की सर्दी को देखते हुए यह फैसला लिया है कि अब जनरल टिकट लेने वाले यात्री भी स्लीपर क्लास में सफर कर सकते हैं। रेलवे ने बुजुर्गों और गरीबों को देखते हुए यह निर्णय लिया है। इससे इन लोगों को सफर करने में आसानी होगी।

रेलवे बोर्ड ने मांगी स्लीपर कोच की डिटेल्स
रेलवे बोर्ड ने सभी मंडल के प्रशासन से कहा है कि जिन भी ट्रेनों के स्लीपर कोच 80 फीसदी से कम यात्री के साथ चल रहे हैं उन सभी कोचों की डिटेल मांगी गई है। रेलवे उन सभी स्लीपर कोच को जनरल में बदलने का विचार कर रहा है, जिससे कि यात्रियों को सफर करने में परेशानी न हो। आपको बता दें सर्दी के मौसम में कई यात्री स्लीपर कोच की जगह एसी कोच से सफर करने को प्राथमिकता दे रही हैं, जिसकी वजह से स्लीपर कोच में यात्री कम संख्या में सफर कर रहे हैं। इसके साथ ही रेलवे ने एसी कोच की संख्या बढ़ाने का भी फैसला लिया है। सर्दी के मौसम की वजह से स्लीपर कोच में 80 फीसदी तक सीटें खाली रह रही है। इसी को देखते हुए रेलवे ने यह फैसला लिया है। वहीं, इसके अलावा जनरल टिकट से यात्रा करने वालों की संख्या में काफी इजाफा हो रहा है। इसी को देखते हुए रेलवे ने स्लीपर कोच को जनरल कोच का दर्जा देने का फैसला लिया है।

नहीं खोल सकेंगे मिडिल बर्थ 

रेलवे ने बताया है कि इन कोचों के बाहर अनारक्षित लिखा जाएगा, लेकिन रेलवे ने बताया है कि इन कोचों में मिडिल बर्थ को खोलने की अनुमति नहीं होगी।

शेयर करें

मुख्य समाचार

लेटर पैड का इस्तेमाल कर रुपये लेने का आरोप, भाजपा नेता को शो कॉज

सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता : पार्टी के लेटर पैड का इस्तेमाल कर व्यावसायिक संगठन से लंबे समय से काफी रुपये का चंदा लेने का आरोप बांकुड़ा जिला आगे पढ़ें »

फेसबुक पर हुआ प्रेम, घर से भागकर की शादी पर दो साल के अंदर फंदे से लटकता मिला शव

हरिदेवपुर इलाके की घटना आरोप - दहेज प्रताड़ना से तंग आकर युवती ने की आत्महत्या सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता : पहले सोशल मीडिया के जरिए उसकी युवक से दोस्ती आगे पढ़ें »

ऊपर