सरकार का बड़ा व कड़ा फैसला : अब डॉक्टरों पर हमला किया तो खैर नहीं, 5 साल तक जेल, 2 लाख तक जुर्माना

नई दिल्ली : चाइनीज वायरस कोरोना महामारी के बीच रक्षक की भूमिका निभा रहे डॉक्टरों पर अब हमला करने वालों की खैर नहीं होगी। मोदी सरकार ने कड़ा और बड़ा कदम उठाते हुए निर्णय लिया है कि अब जो भी हमला करेगा, उसका अपराध गैर-जमानती होगा। मोदी सरकार की कैबिनेट ने बड़ा कदम उठाते हुए निर्णय लिया है कि डॉक्टरों और नर्सों पर हमला करने वालों को कड़ा सबक सिखाने के लिए कड़ा कानून जरूरी है। इसके तहत कैबिनेट ने डॉक्टरों और नर्सों को हमलों व हिंसा से बचाने के लिए अध्यादेश पास कर दिया है। इसके तहत जब भी कोई डॉक्टरों और नर्सों  पर हमला करेगा, उसकी तत्काल गिरफ्तारी होगी, उसे जमानत नहीं मिलेगी और 30 दिन के अंदर इस मामले की जांच पूरी की जाएगी। सरकार ने यह प्रावधान भी कर दिया है कि डॉक्टरों और नर्सों पर हमला करने वालों को 3 महीन से 5 साल तक की जेल होगी। साथ ही, डॉक्टरों पर हुए हमले की भरपाई का जिम्मा भी सरकार ने ले लिया है।

गौरतलब है कि भारत में डॉक्टरों और नर्सों की सबसे बड़ी संस्था आईएमए यानी इंडियन मेडिकल एसोसिएशन ने हमलों के विरोध में बुधवार को मोमबत्ती जलाकर विरोध जताने का निर्णय लिया था। साथ ही गुरुवार को बाहों पर काली पट्टी बांधकर विरोध जताने का निर्णय भी डॉक्टरों और नर्सों इस संस्था ने लिया था।

कई जगह किए जा रहे थे डॉक्टरों पर हमले

गौरतलब है कि अपनी जान जोखिम में डालकर दूसरों की जान बचाने वाले कोरोना योद्धाओं पर कई जगह हमलों की वारदात हो रही थी। पहले दिल्ली में तबलीगी जमात के लोगों ने क्वारंटाइन सेंटर में ही डॉक्टरों और नर्सों पर थूका और उनके साथ अभद्र व्यवहार किया था। इसके बाद इंदौर में भी मुस्लिम बस्ती में सैंपल लेने गई महिला डॉक्टरों पर हमला किया गया। इसके बाद उत्तर प्रदेश के मुरादाबाद में भी तबलीगी जमात के कार्यक्रम से लौटे एक व्यक्ति की कोरोना के कारण मौत हो गई तो उसके परिवार वालों को कोरोना से बचाने के लिए चिकित्सों की टीम पहुंची, लेकिन उन पर भी छतों से पत्थर बरसाए गए और साथ ही फायरिंग भी की गई।

मध्य प्रदेश और उत्तर प्रदेश सरकार ने दोनों ही घटनाओं में कोरोना योद्धाओं पर हमले के आरोपियों पर राष्ट्रीय सुरक्षा कानून यानी एनएसए के तहत मामले दर्ज किए थे, जिनके तहत उन्हें 5 साल तक की सजा हो सकती है। साथ ही, नुकसान की भरपाई भी हमलावरों से ही की जाएगी।

शेयर करें

मुख्य समाचार

इस दिशा में सिर रखकर भूलकर भी न सोएं, जानिए किस तरह सोने से मिलेगा लाभ

कोलकाताः अच्छी सेहत के लिए भरपूर नींद लेना जरूरी है। दिनभर थकने के बाद हम रात को सोते समय इस बात का ध्यान नहीं रखते आगे पढ़ें »

यहां बोरिंग से पानी की जगह निकल रही है आग

मध्य प्रदेश : प्राकृतिक खनिजों से भरे मध्य प्रदेश से एक और हैरान कर देने वाली खबर सामने आई है। राज्य के दमोह जिले के आगे पढ़ें »

ऊपर