फ्रंटलाइन वर्कर्स के लिए कस्टमाइज्ड क्रैश कोर्स प्रोग्राम की शुरुआत

नई दिल्ली: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी शुक्रवार को सुबह 11 बजे वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए कोविड-19 फ्रंटलाइन वर्कर्स के लिए कस्टमाइज्ड क्रैश कोर्स प्रोग्राम की शुरुआत करेंगे। इस कार्यक्रम की शुरुआत 26 राज्यों में फैले 111 ट्रेनिंग सेंटर्स में होगी।
इन छह कस्टमाइज्ड जॉब के लिए दी जाएगी ट्रेनिंग
कोविड-19 फ्रंटलाइन वर्कर्स के लिए कस्टमाइज्ड क्रैश कोर्स प्रोग्राम की शुरुआत के मौके पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का संबोधन होगा। इस अवसर पर केंद्रीय कौशल विकास एवं उद्यमिता मंत्री डॉ महेंद्रनाथ पांडेय भी मौजूद रहेंगे। कार्यक्रम का उद्देश्य देश भर में एक लाख से अधिक कोविड योद्धाओं को स्किल प्रदान करना है। होम केयर सपोर्ट, बेसिक केयर सपोर्ट, एडवांस केयर सपोर्ट, इमरजेंसी केयर सपोर्ट, सैंपल कलेक्शन सपोर्ट और मेडिकल इक्विपमेंट सपोर्ट जैसी छह कस्टमाइज्ड जॉब के लिए कोविड योद्धाओं को ट्रेनिंग दी जाएगी।
इतना खर्चा करेगी सरकार
इस कार्यक्रम को प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना 3.0 के केंद्रीय घटक के तहत एक विशेष कार्यक्रम के रूप में तैयार किया गया है, जिसमें कुल 276 करोड़ रुपये का खर्चा आएगा। कार्यक्रम स्वास्थ्य क्षेत्र में जनशक्ति की वर्तमान और भविष्य की जरूरतों को पूरा करने के लिए कुशल नॉन-मेडिकल हेल्थ वर्कर्स का निर्माण करेगा।

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

अनुपमा-अनुज के रोमांस में वनराज डालेगा खलल, काव्या का जलन से होगा बुरा हाल

नई दिल्ली: टीवी सीरियल 'अनुपमा' में एक बड़ा ट्विस्ट आने वाला है। अनुपमा की लाइफ अब पूरी तरह से बदल रही है। इस नए किरदार की आगे पढ़ें »

ऊपर