कोरोना से बचने के लिए बालाजी को नारियल चढ़ाएं, इसमें गलत क्याः केंद्रीय मंत्री

नई दिल्ली : देश में कोरोना की दूसरी लहर कहर बरपा रही है। रोज तीन लाख से ज्यादा मामले सामने आ रहे हैं और हजारों लोग दम तोड़ रहे हैं। ऑक्सीजन संकट गहराने से लोग परेशान हैं। लेकिन इसके बावजूद केंद्र सरकार में जल शक्ति मंत्री और जोधपुर के सांसद गजेंद्र सिंह शेखावत ने ऐसा बयान दिया, जिसे लेकर वो घिर गए हैं। दरअसल, शेखावत सोमवार को अपने संसदीय क्षेत्र जोधपुर के अलग-अलग अस्पतालों में कोरोना मरीजों के इलाज की व्यवस्था जांचने के लिए पहुंचे थे। इस दौरान जब वो मथुरादास माथुर अस्पताल में पहुंचे तो एक युवक उनके पास आकर मां के इलाज के लिए गिड़गड़ाने लगा। युवक ने मंत्री शेखावत से गुहार लगाई कि उसकी मां को बचा लें। इसके बाद उन्होंने अस्पताल के अधीक्षक को पीड़ित की मां के इलाज के निर्देश दिए। लेकिन जब तक डॉक्टर उसकी मां का इलाज करते तब तक उन्होंने दम तोड़ दिया। इस दौरान कुछ और मरीजों के परिजन केंद्रीय मंत्री शेखावत के पास मदद की गुहार लगाने पहुंचे तो उन्होंने अजीब सलाह दी कि डॉक्टर अपना काम कर रहे हैं, वो तो बालाजी मंदिर में एक गोटा (नारियल) चढ़ा दें, बालाजी महाराज सब ठीक करेंगे। मंत्री जी की अजीबोगरीब सलाह सुनकर वहां मौजूद हर कोई दंग रह गया। शायद लोग भी यही सोच रहे होंगे कि मंत्री शेखावत यही कहना चाह रहे हैं कि अब सरकार और सिस्टम भी भगवान के भरोसे ही है। हालांकि, बाद में जल शक्ति मंत्री ने सभी अस्पतालों के अधीक्षकों और डॉक्टरों से बात की और अस्पतालों में ऑक्सीजन और बाकी जरूरी सामान जुटाने के निर्देश दिए।

शेयर करें

मुख्य समाचार

सुसाइड प्वाइंट बनता जा रहा है विद्यासागर सेतु

हावड़ा ब्रिज पर रेलिंग लगने के बाद यहां पर लोगों की संख्या बढ़ी पिछले दो महीने में 5 लोगों को पुलिस ने आत्महत्या करने से बचाया सन्मार्ग आगे पढ़ें »

कोरोना संक्रमित पिता के इलाज खर्च जुगाड़ नहीं कर पाया, बेटा कुएं में कूद कर मरा

सन्मार्ग संवाददाता दुर्गापुर : प्राइवेट अस्पताल में भर्ती कोरोना संक्रमित पिता के इलाज का खर्च नहीं उठा पाने से तनावग्रस्त बेटे ने कुआं में कूदकर आत्महत्या आगे पढ़ें »

ऊपर