पीएम मोदी क्यों जा रहे विदेश?

नई दिल्ली : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी दो मई से जर्मनी, डेनमार्क और फ्रांस की तीन दिवसीय यात्रा पर रवाना होंगे। इस दौरान वह 25 कार्यक्रमों में शामिल होंगे और तीन दिवसीय यात्रा के दौरान उन देशों में वह लगभग 65 घंटे बिताएंगे। बता दें कि यह दौरा पीएम मोदी का इस साल का पहला दौरा है। वहीं दौरे पर जाने से एक दिन पहले पीएम मोदी ने इस यात्रा का उद्देश्य बताया। पीएम मोदी ने कहा कि मेरी यूरोप यात्रा ऐसे समय में हो रही है जब इस क्षेत्र को कई चुनौतियों का सामना करना पड़ रहा है। पीएम मोदी ने कहा कि अपनी व्यस्तताओं के माध्यम से, मैं यूरोपीय भागीदारों के साथ सहयोग की भावना को मजबूत करने का इरादा रखता हूं। भारत में शांति और समृद्धि की खोज में यूरोपीय साझेदार महत्वपूर्ण साथी हैं। 

पीएम ने बताया यात्रा का उद्देश्य

पीएम मोदी ने कहा कि मैं डेनमार्क,आइसलैंड,फिनलैंड,स्वीडन और नॉर्वे के प्रधानमंत्रियों के साथ दूसरे भारत-नॉर्डिक शिखर सम्मेलन में भी भाग लूंगा। शिखर सम्मेलन में महामारी के बाद आर्थिक सुधार, जलवायु परिवर्तन, नवीकरणीय ऊर्जा आदि जैसे विषयों पर ध्यान केंद्रित किया जाएगा। पीएम मोदी ने कहा कि हम छठे भारत-जर्मनी अंतर-सरकारी परामर्श (आईजीसी) की सह-अध्यक्षता करेंगे, जो एक अद्वितीय द्विवार्षिक प्रारूप है जिसे भारत केवल जर्मनी के साथ आयोजित करता है। कई भारतीय मंत्री भी जर्मनी जाएंगे और अपने जर्मन समकक्षों के साथ विचार-विमर्श करेंगे। इसके अलावा बर्लिन की मेरी यात्रा चांसलर स्कोल्ज के साथ विस्तृत द्विपक्षीय चर्चा करने पर केंद्रित होगी। जिनसे मैं पिछले साल G20 में मिला था।

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

शादी का वादा कर प्रेमिका से किया दुष्कर्म, पहुंचा जेल, बाहर निकलने पर दोबारा किया दुष्कर्म

गोल्फग्रीन इलाके की घटना सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता : शादी का वादा कर प्रेमिका से दुष्कर्म करने के आरोप में पुलिस ने एक युवक को गिरफ्तार किया। जेल आगे पढ़ें »

ऊपर