कुरुक्षेत्र: कांग्रेस के ‘सारथी’ बनेंगे पीके या ‘संन्यास’ रहेगा कायम

नई दिल्ली : चुनावी रणनीतिकार प्रशांत किशोर के कांग्रेस में शामिल होने की अटकलें फिलहाल अब खत्म हो गई हैं। क्योंकि जहां कांग्रेस ने न इसकी पुष्टि की न खंडन किया लेकिन प्रशांत किशोर ने इन सारी अटकलों को खारिज करते हुए साफ किया है कि अभी वह किसी भी तरह की राजनीतिक गतिविधि में शामिल नहीं हैं और न ही 2022 के प्रारंभ में होने वाले पांच राज्यों के चुनावों में उनकी कोई प्रत्यक्ष या अप्रत्यक्ष भूमिका होगी। साथ ही उन्होंने यह भी कहा चाहे पंजाब का मामला हो या कोई और मसला, कांग्रेस के किसी भी फैसले में उनकी कोई भूमिका न पर्दे के पीछे है और न ही पर्दे के बाहर। प.बंगाल चुनाव के नतीजों के बाद दो मई को उन्होंने जो घोषणा की थी वह पूरी तरह उस पर कायम हैं और अब जब भी कोई फैसला लेंगे तो उसकी सार्वजनिक घोषणा करेंगे। पीके ने कहा कि आगे राजनीति में सक्रिय होंगे या नहीं होंगे इसका अभी तक उन्होंने कोई फैसला नहीं किया है। उधर कांग्रेस सूत्रों का कहना है कि पीके पार्टी में शामिल होंगे या नहीं ये उन्हें और कांग्रेस नेतृत्व को तय करना है, लेकिन कांग्रेस नेतृत्व ने अनौपचारिक तौर पर पीके से राय मशवरा करना शुरु कर दिया है। जिसकी झलक पार्टी संगठन में होने वाले बदलाव के फैसलों में देखी जा सकती है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

दूसरे दिन भी न्यूटाउन व साल्टलेक के इलाकों में जमा रहा पानी

न्यूटाउन के ड्रेनेज सिस्टम पर लोगों ने उठाये सवाल कोलकाता के कुछ निचले इलाके भी रहे जलमग्न सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता : रविवार देर रात से लगातार हो रही आगे पढ़ें »

ऊपर