चक्रवात ताउते में पी 305 नाव लापता, 273 लोग सवार

– आईएनएस कोच्चि सर्च और रेस्क्यू अभियान में जुटी
मुंबई : 
चक्रवात ताउते का कहर लगातार बढ़ता ही जा रहा है।  भीषण चक्रवाती तूफान ताउते अरब सागर के तटीय इलाके में लोगों की मुश्किलें बढ़ा दी है। 273 यात्रियों वाली नौका मुंबई तट से दूर चली गई हैं। नौसेना के प्रवक्ता ने बताया कि बॉम्बे हाई इलाके में हीरा ऑयल फील्ड्स तट से नौका पी 305 के दूर जाने की सूचना मिलने पर आईएनएस कोच्चि को बचाव एवं तलाश अभियान के लिए भेजा गया है। नौका पर 273 लोग सवार थे। ऑयल फील्ड मुंबई से करीब 70 किलोमीटर दक्षिण पश्चिम में है। उन्होंने बताया कि भारत के पश्चिमी तट पर तबाही मचा रहे चक्रवात ताउते के मद्देनजर मानवीय सहायता के लिए अन्य कई जहाजों और आपदा राहत (एचएडीआर) को तैयार रखा गया है।प्रवक्ता ने बताया कि अन्य त्राहिमाम संदेश नौका जीएएल कंस्ट्रक्टर से मिला जिस पर 137 यात्री सवार हैं। यह नौका मुंबई से आठ समुद्री मील की दूरी पर है। आईएनएस कोलकाता को सहायता के लिए भेजा गया है।

भारत मौसम विज्ञान विभाग, पुणे के पर्यावरण अनुसंधान और सेवा, एसआईडी प्रमुख के. एस. होसालिलकर ने ट्वीट किया कि ताउते चक्रवात अब अत्यंत तीव्र चक्रवाती तूफान का रूप ले चुका है। मुंबई में 160 किलोमीटर की रफ्तार और गुजरात में 290 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से हवाएं चल रही हैं। उत्तरी कोंकण, महाराष्ट्र के तटवर्ती क्षेत्र और गुजरात में ध्यान रखें।

मुंबई महानगर क्षेत्र विकास प्राधिकरण (एमएमआरडीए) ने बताया कि एहतियात के तौर पर शहर में दिन भर के लिए मोनो रेल सेवा स्थगित कर दी गयी है। एमएमआरडीए ने कहा कि यात्रियों की सुरक्षा के लिए यह त्वरित फैसला किया गया है। उन्होंने बताया कि चक्रवात के प्रभाव से हुई बारिश के कारण शहर में कहीं भी जलजमाव नहीं हुआ, कई जगहों पर पेड़ उखड़ गये और अब तक जानमाल के नुकसान की कोई सूचना नहीं है।

 

शेयर करें

मुख्य समाचार

5000 हेल्थ अस्टिटेंट को दी जाएगी मरीजों की देखभाल की ट्रेनिंग : केजरीवाल

नई दिल्ली : राज्यों ने जानलेवा कोरोना वायरस की संभावित तीसरी लहर से निपटने की तैयारी शुरू कर दी है। इसी क्रम में दिल्ली सरकार भी आगे पढ़ें »

वेट कंट्रोल के साथ आपके मन को शांत रखती हैं ये पांच छोटी-छोटी बातें

कोलकाताः मन अशांत रहने का असर हमारे खाने-पीने की आदतों पर भी पड़ता है। मौजूदा समय में जिस तरह दुनिया अस्त-व्यस्तता से गुजर रही है, उसकी आगे पढ़ें »

ऊपर