वैक्सीन प्रोडक्शन बढ़ाने के अपने बयान पर नितिन गडकरी ने दी सफाई- ‘नहीं पता था कि सरकार पहले से ही…’

नई दिल्ली: देश में कोविड-19 के खिलाफ चल रहा वैक्सीनेशन ड्राइव कई राज्यों में वैक्सीन की कमी के चलते रुका हुआ है l वैक्सीन का आयात करने, प्रोडक्शन बढ़ाने और दूसरी फार्मा कंपनियों से भी वैक्सीन का फॉर्मूला शेयर करने की बहसें चल रही हैं l इस बीच केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने भी मंगलवार को इसका समर्थन किया थाl उन्होंने कहा था कि देश में कई दूसरी कंपनियों को भी कोविड वैक्सीन बनाने का लाइसेंस दिया जाना चाहिए l लेकिन आज उन्होंने ट्वीट कर अपने बयान पर स्पष्टीकरण दिया है l उन्होंने कहा कि ‘कल स्वदेशी जागरण मंच के एक कार्यक्रम में मैंने कोविड वैक्सीन का प्रोडक्शन बढ़ाने का सुझाव दिया था lमुझे तबतक जानकारी नहीं थी कि रसायन व उर्वरक मंत्री मनसुख मांडवीय ने इस संबंध में सरकार की कोशिशों की जानकारी दी थी l कॉन्फ्रेंस के बाद उन्होंने मुझे भी बताया कि भारत सरकार पहले ही 12 अलग प्लांट/कंपनियों की ओर से वैक्सीन निर्माण शुरू करने की कोशिशें कर रही है और इन कोशिशों से निकट भविष्य में प्रोडक्शन मे तेजी आने की उम्मीद है l गडकरी ने कहा कि ‘मुझे इस बात की जानकारी नहीं थी जब मैंने अपना यह सुझाव कल दिया था l मुझे खुशी है कि वो और उनकी टीम मिलकर सही दिशा में कदम उठा रहे हैं l मैं इसके लिए उन्हें बधाई देती हूं. मुझे लगता है कि यह अहम जानकारी साझा की जानी चाहिए l वह प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से इस बारे में आग्रह करेंगे कि देश में जीवनरक्षक दवाओं का उत्पादन बढ़ाने के लिये और दवा कंपनियों को मंजूरी देने के लिये कानून बनाया जाना चाहिए l इसमें दवा के पेटेंट धारक को अन्य दवा कंपनियों द्वारा 10 प्रतिशत रॉयल्टी देने की व्यवस्था की जानी चाहिए l उनके इस बयान पर कांग्रेस के वरिष्ठ नेता जयराम रमेश ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर तंज कसा था l जयराम रमेश ने उनके बयान पर पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह की उस चिट्ठी को याद किया, जो अप्रैल में उन्होंने पीएम मोदी के नाम लिखी थी l कांग्रेस नेता ने ट्वीट किया, ’18 अप्रैल को डॉक्टर मनमोहन सिंह ने यही बात सुझाई थीl लेकिन क्या उनके बॉस सुन रहे हैं?’

शेयर करें

मुख्य समाचार

माध्यमिक के लिए 50 : 50 सूत्र, एचएस के लिए 40 : 60 सूत्र से मिलेंगे अंक

माध्यमिक का 9वीं का वार्षिक और 10वीं की इंटरनल परीक्षा के आधार पर होगा रिजल्ट उच्च माध्यमिक के लिए 2019 की माध्यमिक और 11वीं की प्रैक्टिकल आगे पढ़ें »

लड़कियों के स्तनों को छूने से पहले…

कोलकाता : जानना चाहते हैं कि किसी लड़की के स्तनों को कैसे छुएं। बहुत से पुरुषों को समझ नहीं आता है कि वह पहली बार आगे पढ़ें »

ऊपर