ओमिक्रॉन का असर: मेट्रो के लिए भारी भीड़, यात्रियों ने तोड़ दीं बसें

नई दिल्ली: दिल्ली में ओमिक्रॉन के बढ़ते खतरे के मद्देनजर यलो अलर्ट के नियम लागू हैं। इस कारण मेट्रो का संचालन आधी क्षमता के साथ ही किया जा रहा है। मतलब यह कि यात्री एक सीट छोड़कर दूसरी सीट पर बैठ रहे हैं जिससे भीड़ हो जा रही है।

नौकरी, व्यवसाय एवं अन्य जरूरी काम से यात्रा करने वाले परेशान हो रहे हैं। उनकी परेशानी का सबब यह है कि मेट्रो में आधी सीटों पर बैठने की अनुमति होने से भीड़ गई है तो बसों की संख्या बढ़ाई नहीं गई है। मेट्रो की भीड़ कम करने के लिए बसें बढ़ा दी जानी चाहिए थीं, लेकिन ऐसा नहीं होने पर लोगों में आक्रोश भी देखा जा रहा है। गुरुवार को लोग इंतजार करते-करते थक गए यात्रियों के समूह ने तीन बसें तोड़ दीं।

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

स्कूल खाेलने के लिए शिक्षा विभाग ने नवान्न से मांगा सुझाव

सन्मार्ग संवाददाता काेलकाता : राज्य का शिक्षा विभाग अब स्कूलों को खोलनेे पर विचार कर रहा है। गत शुक्रवार को इस संबंध में राज्य के मुख्य आगे पढ़ें »

ऊपर