अब पानी के उपकरणों को भी दी जाएगी स्टार रेटिंग

नई दिल्ली : जब से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सत्ता में आए तब से उन्होंने स्टार रेटिंग शुरू कर दी- चाहे वह स्वच्छ शहर हों, सर्वोत्तम ग्राम हो, सर्वश्रेष्ठ बिजली संयंत्र हों या कुछ और। अब उनकी नजर जल की खपत करने वाले उपकरणों को स्टार रेटिंग देने पर है। राष्ट्रीय जल मिशन तथा बीआईएस द्वारा कई तरह के मानक तय किए जा रहे हैं।

नलों से आरओ तक की रेटिंग
जिस तरह से बिजली की स्टार रेटिंग तय होती है, उसी तरह से पानी बचाने वाले नलों तथा ऐसे अन्य उपकरणों की रेटिंग तय होगी। हालांकि इनकी रेटिंग बिजली उपकरणों की तरह 5 स्टार न होकर, 3 स्टार होगी। यह स्टार रेटिंग इस बात पर निर्भर करेगी कि उपकरण से प्रति मिनट कितना जल निकलता है। अगर किसी शावर से एक मिनट में 10 लीटर पानी आता है तो उसको 1 स्टार की रेटिंग दी जाएगी, जबकि 8 लीटर के लिए उसे 2 स्टार और 6.8 लीटर के लिए 3 स्टार दिए जाएंगे। वाशबेसिन में अगर 8 लीटर पानी प्रति मिनट निकलता है तो उसे 1 स्टार, 6 लीटर पर 2 स्टार और 3 लीटर पर 3 स्टार दिए जाएंगे। पानी की खपत करने वाले इलेक्ट्रिक उपकरणों – आरओ तथा प्यूरीफायर, वाशिंग मशीन, डिश वाशर और कूलर की भी रेटिंग की जाएगी।

 

शेयर करें

मुख्य समाचार

चैम्पियंस लीग : नॉकआउट चरण में पहुंचे युवेंटस, बार्सिलोना, चेल्सी और सेविला

लंदन : युवेंटस, बार्सिलोना, चेल्सी और सेविला ने दो मैच शेष रहते ही चैंपियन्स लीग फुटबॉल टूर्नामेंट के नॉकआउट चरण में जगह बना ली है। आगे पढ़ें »

कोरोना के खिलाफ गृह मंत्रालय की नई गाइडलाइंस, 31 दिसंबर तक रहेगी लागू

नई दिल्ली : कोरोना वायरस का संक्रमण देशभर में लगातार बढ़ता जा रहा है। राजधानी दिल्ली का सबसे बुरा हाल है। यहां कोरोना के प्रतिदिन आगे पढ़ें »

ऊपर