अब टीटी भी चेक नहीं कर सकता ट‍िकट!

नई दिल्लीः देश के अध‍िकतर लोग अक्‍सर ट्रेन का सफर करना पसंद करते हैं। रेल यात्रा आरामदायक होने के साथ सुरक्ष‍ित भी रहती है। ऐसे में आपको रेलवे से जुड़ा हर न‍ियम पता होना चाह‍िए। रेलवे की तरफ से यात्र‍ियों की सुव‍िधा को ध्‍यान में रखते हुए व‍िभिन्‍न न‍ियम बनाए जाते हैं। प‍िछले द‍िनों भी रेलवे बोर्ड ने यात्र‍ियों की सुव‍िधा के ल‍िए कई न‍ियमों में बदलाव क‍िया था। अगर ट्रेन में यात्रा करने वाला हर यात्री रेलवे के न‍ियमों का पालन करें तो आपका सफर ज्‍यादा आरामदायक हो सकता है। आइए जानते हैं रेलवे से जुड़े वो न‍ियम, ज‍िनकी हवाला देकर आप अपने सफर को और भी कम्‍फर्ट बना सकते हैं।

थ्री टियर कोच में यात्रा के नियम

थ्री टियर कोच में सफर करते समय मिडिल बर्थ को लेकर सबसे ज्‍यादा प्रॉब्‍लम होती है। अक्सर लोअर बर्थ वाला यात्री देर रात तक सीट पर बैठा रहता है, इस कारण मिडिल बर्थ वाला यात्री चाहकर भी आराम नहीं कर पाता। इसके अलावा ऐसा भी होता है क‍ि मिडिल बर्थ वाले यात्री देर रात तक लोअर बर्थ पर बैठे रहते हैं, इस कारण लोअर वाले को सोने में परेशानी होती है।

रात 10 से सुबह 6 बजे तक का समय महत्‍वपूर्ण

अगर आपके साथ भी कभी ऐसा हुआ है तो शायद आपको रेलवे के न‍ियमों की जानकारी नहीं रही होगी, लेक‍िन अब आप रेलवे के न‍ियमों का हवाला दे सकते हैं। रेलवे के न‍ियमानुसार रात 10 बजे से सुबह 6 बजे तक आप मिडिल बर्थ को खोल सकते हैं। यानी यद‍ि आपकी लोअर बर्थ है तो रात 10 बजे के बाद म‍िड‍िल बर्थ या अपर बर्थ वाला यात्री आपकी सीट पर नहीं बैठ सकता। आप उसे रेलवे के न‍ियम का हवाला देकर अपनी सीट पर जाने के ल‍िए कह सकते हैं। इसके अलावा यद‍ि द‍िन में मिडिल बर्थ वाला पैसेंजर अपनी सीट खोलता है, तो भी आप उसे रेलवे के इस नियम को बताकर मना कर सकते हैं।

यात्री को देर रात जगा देते हैं

अक्सर यात्रियों की श‍िकायत की जाती है क‍ि ट्रेन में सोने के बाद टीटी टिकट चेक करने के ल‍िए जगा देते हैं। ऐसे में उनकी नींद खराब हो जाती है और परेशानी होती है। यात्रियों की इस परेशानी को दूर करने और सफर को सुविधाजनक बनाने के लिए रेलवे के न‍ियमानुसार टीटी रात के 10 बजे से सुबह 6 बजे तक यात्रियों के सोने के दौरान टिकट चेक नहीं कर सकता, लेकिन यद‍ि आपकी यात्रा रात 10 बजे के बाद शुरू होती है तो रेलवे का यह न‍ियम लागू नहीं होता।

बिना ईयर फोन के गाना सुनने पर पाबंदी

यात्र‍ियों की तरफ से अक्‍सर रात को सहयात्री के मोबाइल पर तेज आवाज में गाना सुनने या वीड‍ियो देखने की भी श‍िकायतें रेलवे बोर्ड को म‍िलती हैं। इसके मद्देजर रेलवे ने रात 10 बजे के बाद ब‍िना ईयर फोन के गाने सुनने या वीड‍ियो देखने पर पाबंदी लगा रखी है। न‍ियमानुसार आप रात 10 बजे के बाद ब‍िना ईयर फोन के न ही गाना सुन सकते हैं और न ही वीड‍ियो देख सकते हैं। इतना ही नहीं रात में तेज आवाज में बात करने की भी मनाही है।

यात्री पर हो सकती है कार्रवाई

यद‍ि आपका सहयात्री आपकी बात नहीं मानता तो इसके ल‍िए आप ट्रेन में मौजूद रेलवे स्‍टॉफ से श‍िकायत कर सकते हैं।रेलवे स्‍टॉफ की ज‍िम्‍मेदारी है क‍ि मौके पर आकर आपकी समस्‍या का समाधान करे। यद‍ि सह यात्री फ‍िर भी नहीं मानता तो उस पर रेलवे के न‍ियमों के अनुसार कार्रवाई की जा सकती है।

 

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

दुर्गापूजा से पहले नये कलेवर में सजेगा बंगाल का होम स्टे

 नजर होम स्टे पर 80% होम स्टे उत्तर बंगाल में हैं, 20% दक्षिण बंगाल में इन जगहों पर हैं होम स्टे कलिम्पोंग दार्जिलिंग कर्सियांग जलपाईगुड़ी अलीपुरदुआर का डुआर्स बांकुड़ा पुरुलिया हुगली बंगाल में होम स्टे की आगे पढ़ें »

ऊपर