Bihar: अब मोतिहारी में गिरा 50 फीट लंबा पुल, एक हफ्ते में यह तीसरी घटना

शेयर करे

पटना: बिहार में पुल गिरने के मामले बढ़ते जा रहे हैं। यहां एक सप्ताह के भीतर अब तीसरा पुल ढह गया है। इस बार ये घटना मोतिहारी जिले में हुई है। इससे पहले अररिया और सीवान में भी पुल गिर चुके हैं। यह निर्माणाधीन प्रोजेक्ट था, जिसकी अनुमानित लागत दो करोड़ रुपये के करीब थी।

करीब 50 फीट लंबी थी पुल

जानकारी के अनुसार, इस बार पुल गिरने की घटना पूर्वी चंपारण के मोतिहारी के घोड़ासहन ब्लॉक में चैनपुर स्टेशन के लिए पहुंच मार्ग पर हुई है। यहां दो करोड़ रुपये की लागत से पुल का निर्माण किया जा रहा था। पुल की ढलाई का काम किया जा चुका था। इस पुल की लंबाई लगभग 50 फीट थी।

कल सीवान में भी भरभराकर गिर गया था पुल

बता दें कि बिहार के सीवान में भी कल पुल गिरने की घटना हुई थी. यहां महाराजगंज-दरोंदा विधानसभा के बॉर्डर को जोड़ने वाला पुल ताश के पत्ते की तरह ढेर हो गया था। लोगों का कहना था कि बिना बारिश के पुल इस तरह कमजोर होकर गिर गया, यह हैरान करने वाली बात है। इस बार न आंधी आई और न ही बारिश हुई, फिर भी महाराजगंज क्षेत्र के पटेढी – गरौली को जोड़ने वाला नहर पर बना पुल धड़ाम हो गया।

यह भी पढ़ें: बंगाल में सिर उठाने की कोशिश में बांग्लादेशी आतंकी संगठन, दुर्गापुर से छात्र गिरफ्तार

सीवान की घटना पर क्या बोले थे डीएम ?

सीवान की इस घटना को लेकर जिला मजिस्ट्रेट मुकुल कुमार गुप्ता ने कहा था कि यह पुल दरौंदा और महाराजगंज ब्लॉक के गांवों को जोड़ने वाली नहर पर बना था। घटना में कोई हताहत नहीं हुआ। यह बहुत पुराना था। नहर से पानी छोड़े जाने पर खंभे ढह गए। हम कोशिश में हैं कि लोगों को यथासंभव कम असुविधा का सामना करना पड़े।

वहीं दरौंदा बीडीओ सूर्य प्रताप सिंह ने कहा कि स्थानीय लोगों का दावा है कि पुल का निर्माण 1991 में तत्कालीन महाराजगंज विधायक उमा शंकर सिंह के योगदान से हुआ था। महाराजगंज के उपमंडल मजिस्ट्रेट अनिल कुमार ने कहा कि 20 फीट लंबा पुल विधायक निधि से बना था। जांच के आधार पर आगे की कार्रवाई की जाएगी।

मंगलवार को अररिया में गिरा था 12 करोड़ से बना पुल

इससे पहले मंगलवार को अररिया में लगभग 180 मीटर लंबा एक नवनिर्मित पुल ढह गया था। अररिया के सिकटी में बकरा नदी पर यह पुल बनाया गया था। इस पुल का उद्घाटन किया जाना था, लेकिन इससे पहले ही पुल धड़ाम से गिर गया। सिकटी प्रखंड स्थित बकरा नदी पर 12 करोड़ की लागत से इस प्रोजेक्ट को तैयार किया गया था।

बताया जा रहा है कि मंगलवार को पुल के 3 पिलर नदी में धंस गए थे, इसके बाद पुल गिर गया। सिकटी विधायक विजय मंडल ने इस मामले में कहा था कि जिले के ग्रामीण कार्य विभाग द्वारा यह पुल तैयार किया गया था। जमीन पर ही पिलर गाड़कर इसको बनाया गया था। यहां एप्रोच रोड भी नहीं बना था। करीब 12 करोड़ की लागत वाले 100 मीटर का यह पुल था। इसका उद्घाटन भी नहीं हुआ था, पूरी तरह से कंप्लीट भी नहीं था।

Visited 61 times, 1 visit(s) today
0
0

मुख्य समाचार

कोलकाता : मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के निर्देश के बाद ईबी व टास्क फोर्स द्वारा मिलकर महानगर के विभिन्न बाजारों में
कोलकाता : कोलकाता में सोमवार को भगवान जगन्नाथ के 53वां उल्टा रथयात्रा का आयोजन किया गया। इस्कॉन कोलकाता के सौजन्य
कोलकाता : महानगर व आसपास क्षेत्रों के 19 अहम ब्रिज और फ्लाईओवर की मरम्मत की जायेगी। केएमडीए ने इसकी तालिका
कोलकाता : राज्य के मोटर ट्रेनिंग स्कूलों पर परिवहन विभाग द्वारा नकेल कसी जाने के लिये कई अहम कदम उठाये
कोलकाता : महानगर में पिछले पांच सालों में 30 से ज्यादा फायरिंग की घटनाएं घट चुकी हैं। यह जानकारी हाल
कोलकाता : विभिन्न मार्केट में हॉकरों के ढर्रे में कई बदलाव देखने को मिल रहे हैं। सीएम ममता बनर्जी की
16 जुलाई से बढ़ाकर की गयी 19 जुलाई कोलकाता : बीए, बीएससी और बीकॉम की परीक्षा में ऑनलाइन फॉर्म जमा
कोलकाता : महज 25 वर्ष की उम्र में मधुपर्णा ठाकुर विधायक बनी हैं और ऐसा कर उन्होंने सबसे कम उम्र
कोलकाता : ममता बनर्जी की पार्टी तृणमूल कांग्रेस ने रायगंज, बागदा, राणाघाट दक्षिण और मानिकतला सीट पर हुए उपचुनाव में
कोलकाता : चिंगड़ीहाटा फ्लाईओवर बीमार है, इसमें कोई दो राय नहीं है लेकिन इतना भी नहीं कि इसे तोड़ने की
अल्टीमेटम का असर : 3 दिन के अभियान में 20% तक कम हुईं सब्जियों की कीमतें कोलकाता : मुख्यमंत्री ममता
मिलेंगे और मौके, उच्च शिक्षा विभाग 2 राउंड की काउंसलिंग करेगा आयोजित सेंट्रलाइज्ड एडमिशन पोर्टल की​ पहली मेरिट लिस्ट जारी
ऊपर