भड़काऊ भाषण देने वालों पर केस दर्ज करने का सही समय नहीं : दिल्ली पुलिस

delhi police security for 15 august

नई दिल्ली : उच्च न्यायालय में गुरुवार को दिल्ली हिंसा मामले की सुनवाई हुई। इस दौरान सॉलिसिटर जनरल तुषार मेहता ने कहा कि भड़काऊ भाषण देने वाले नेताओं के खिलाफ एफआईआर दर्ज करने का अभी सही समय नहीं है। सही समय आने पर केस दर्ज किया जाएगा। साथ ही उन्होंने कहा कि फिलहाल हम हिंसा को नियंत्रित करने की कोशिश कर रहे हैं। सॉलिसिटर ने न्यायालय को बताया‌ कि भड़काऊ भाषण वाले वीडियो की जांच की जा रही है। उन्होंने यह भी बताया कि इस मामले में अब तक 48 एफआईआर दर्ज हो चुके हैं और याचिकाकर्ता केवल 3 के खिलाफ कार्रवाई की मांग नहीं कर सकता है। इस पर दिल्ली हाईकोर्ट के मुख्य न्यायाधीश जस्टिस डीएन पटेल ने मामले की सुनवाई 4 हफ्तों के लिए टाल दिया। साथ ही गृह मंत्रालय को पक्षकार बनाते हुए भड़काऊ भाषण मामले में विस्तृत रिपोर्ट दाखिल करने का निर्देश दिया है। इस मामले पर अगली सुनवाई 13 अप्रैल को होगी।

भड़काऊ भाषण वाले वीडियो की जांच जारी है : पुलिस

दिल्ली पुलिस के अनुसार, भड़काऊ भाषण वाले वीडियो की जांच की जा रही है। मामले में अब तक 106 लोगों को गिरफ्तार किया जा चुका है और सीसीटीवी फुटेज के आधार पर और भी गिरफ्तारी होनी है। पुलिस ने कहा कि इस जांच में उसे बाहरी लोगों की तस्वीरें मिली है और उनकी पहचान कर ली गई है।

ऐसे भाषण देने वाले सभी नेता पर कार्रवाई होनी चाहिए : वकील

इस दौरान, याचिकाकर्ता के वकील कॉलिन ने न्यायालय में कहा कि जिन्होंने भड़काऊ भाषण दिया उन सब पर कार्रवाई होनी चाहिए। साथ ही उन्होंने कहा कि यदि इन अपमानजनक भाषणों के कारण हत्याएं हुई हैं तो इन नेताओं को हत्या के लिए बुक किया जाना चाहिए, न कि सिर्फ नफरत भरे भाषण देने के लिए। वहीं दिल्ली सरकार के वकील राहुल मेहरा का कहना है कि बुधवार को सुनवाई के दौरान न्यायालय ने केवल 3 वीडियों के बारे में नहीं सभी भड़काऊ भाषण के बारे में कहा था। बता दें कि दिल्ली में साम्प्रदायिक हिंसा की वजह से आज भी उत्तर-पूर्वी इलाकों में डर का माहौल है। इस हिंसा में अब तक 34 लोगों के मारे जाने की खबर है और दर्जनों घायल हैं।

शेयर करें

मुख्य समाचार

‘बांग्ला आमार मां’ लिखा मास्क पहनेंगे सरकारी अफसर

कोलकाता : कोरोना का संक्रमण जितनी तेजी से फैल रहा है मास्क का चलन भी उतनी ही तेजी से बढ़ रहा है। ऐसे में सभी आगे पढ़ें »

ऑस्ट्रेलिया हांगकांग के 10 हजार लोगों को देगा स्थाई निवास का मौका

सिडनी : ऑस्ट्रेलिया सरकार ने कहा है कि वह यहां रह रहे हांगकांग के कम से कम 10,000 नागरिकों का वर्तमान वीजा समाप्त होने के आगे पढ़ें »

ऊपर