नौसेना प्रमुख बंग्लादेश के दौरे पर, द्विपक्षीय मुद्दों पर करेंगे चर्चा

admiral karambir singh

नई दिल्ली : भारतीय नौसेना प्रमुख एडमिरल करमबीर सिंह शनिवार को बांग्लादेश के दौरे पर रवाना हुए, जहां वह द्विपक्षीय मुद्दों पर वार्ता करेंगे। रक्षा मंत्रालय के अनुसार इस यात्रा का मकसद भारत और बांग्लादेश के बीच द्विपक्षीय समुद्री संबंधों को मजबूत बनाना और उनका विस्तार करना है। साथ ही उन्होंने बताया कि अपने दौरे के दौरान करमबीर बांग्लादेश के नौसेना के प्रमुख एडमिरल औरंगजेब चौधरी, सेवा प्रमुख और अन्य वरिष्ठ अधिकारियों के साथ द्विपक्षीय चर्चा करेंगे। इसके अलावा उन्होंने कहा कि करमबीर का यह दौरा चार दिवसीय है।

बीआईएमआरएडी समारोह में भाग लेंगे

बता दें कि नौसेना प्रमुख बांग्लादेश इंस्टीट्यूट ऑफ मेरीटाइम रिसर्च एंड डेवलपेंट (बीआईएमआरएडी) के पहले वार्षिक समारोह में भाग लेंगे। साथ ही वह बांग्लादेश नौसेना अकादमी (बीएनए) के कैडेटों कार्यक्रम को संबोधित करेंगे। इसके अलावा करमबीर छत्रोग्राम और खुलना में बांग्लादेश के नौसेना बेसों और खुलना शिपयार्ड का भी दौरा करेंगे।

बांग्लादेश 1971 के मुक्ति संग्राम में विजय समारोह मनाती है

गौरतलब है कि भारतीय नौसेना नियमित रूप से उच्चाधिकारी स्तर की वार्ता, वार्षिक रक्षा संवाद और अन्य परिचालन सहभागिता के माध्यम से बंगलादेश की नौसेना के साथ विचार-विमर्शों का आयोजन करती है, जिनमें बंदरगाहों की यात्रा, समुद्री मार्ग अभ्यास, प्रशिक्षण, पोत डिजाइन और पोत निर्माण में सहयोग शामिल हैं। इसके अलावा 1971 के ‘मुक्ति संग्राम’ को मनाने के लिए बांग्लादेश में आयोजित विजय दिवस समारोह में भारतीय नौसेना के सेवारत और सेवानिवृत्त अधिकारी नियमित रूप से शामिल होते हैं। बता दें कि बंगलादेश की नौसेना हिंद महासागर नौसैनिक संगोष्ठी (आईओएनएस) की एक सक्रिय सदस्य है। यह तीन कार्य समूहों – मानवीय सहायता और आपदा राहत (एचएडीआर), समुद्री सुरक्षा और सूचना हस्तांतरण एवं अंतर्संचालनीयता’ की भी सदस्य है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

hongkong

हांगकांग ‘लोकतंत्र अधिनियम’ पारित, चीन ने दी कड़ी प्रतिक्रिया

वाशिंगटन : हांगकांग में लोकतंत्र समर्थक प्रदर्शनकारियों की मांग वाले एक विधेयक को अमेरिकी प्रतिनिधि सभा ने मंगलवार को पारित कर दिया, जिसका उद्देश्य उस आगे पढ़ें »

रतन टाटा खुद को मानते हैं ‘एक्सीडेंटल स्टार्टअप निवेशक’, कई बड़ी कंपनियों में है हिस्सेदारी

नई दिल्ली : उद्योगपति और टाटा समूह के चेयरमैन रतन टाटा ने खुद को 'एक्सीडेंटल स्टार्टअप निवेशक' माना है। उन्होंने दर्जनभर से ज्यादा स्टार्टअप कंपनियों आगे पढ़ें »

court

अयोध्या मामले पर सुप्रीम कोर्ट ने 40 दिन की सुनवाई के बाद फैसला सुरक्षित रखा

ayodhya

अयोध्या मामला : मुस्लिम धर्मगुरुओं ने कहा, शीर्ष न्यायालय के फैसले को स्वीकार किया जाना चाहिए

अमेरिकी प्रतिबंधों के पालन के लिए भारत अपना नुकसान नहीं करेगा: वित्त मंत्री

russia

तुर्की और सीरिया की लड़ाई में रूस बना दीवार, तैनात की अपनी आर्मी

sitaraman

अनुच्छेद 370 को हटाए जाने के बाद ‘मानवाधिकार’ विश्व स्तर पर ज्वलंत शब्द बन गया : सीतारमण

chetak

बजाज ने पेश किया इलेक्ट्रिक चेतक स्कूटर, सामने आया पहला लुक

rail

रेलवे ने शुरू की नई योजना, अब फिल्म प्रमोशन के लिए हो सकेगी ट्रेनों की बुकिंग

modi

पीएम मोदी बोले- राष्ट्र निर्माण का आधार है सावरकर के संस्कार

ऊपर