आज है ‘राष्ट्रीय मिर्गी दिवस’, जानिए महत्व, लक्षण, कारण तथा इतिहास

कोलकाता: लोगों की सोच को बदलने और रोग के प्रति जागरूक करने हेतु हर वर्ष 17 नवंबर को ‘नेशनल एपिलेप्‍सी डे’ यानी ‘राष्ट्रीय मिर्गी दिवस’ मनाया जाता है। विश्‍व स्‍वास्‍थ्‍य संगठन के अनुसार विश्‍वभर में लगभग 50 लाख लोग मिर्गी के रोग से पीड़ित हैं, जिसमें भारत में लगभग 10 लाख लोग इस समस्‍या का सामना कर रहे हैं। लोगों की सोच को बदलने और रोग के प्रति जागरूक करने हेतु हर वर्ष 17 नवंबर को नेशनल एपिलेप्‍सी डे मनाया जाता है। मुंह से झाग निकलना, चक्‍कर आना, शरीर में जकड़न और बेहोशी जैसे लक्षण मिर्गी की ओर इशारा करते हैं। मिर्गी ब्रेन से जुड़ा एक क्रोनिक रोग है, जिसमें व्‍यक्ति को दौरे पड़ते हैं। ब्रेन की सेल्‍स में अचानक और असामान्‍य रूप से केमिकल रिएक्‍शन होने के कारण दौरा पड़ने लगता है, जिस वजह से व्‍यक्ति बेहोश भी हो सकता है। मिर्गी रोग किसी को भी हो सकता है। यदि समय रहते इसका इलाज कराया जाए तो इससे छुटकारा पाया जा सकता है।

राष्ट्रीय मिर्गी दिवस का महत्‍व

कई नुक्‍कड़ नाटकों द्वारा लोगों को जागरूक करने का प्रयास किया जाता है।

डब्‍ल्‍यूएचओ के माध्‍यम से मिर्गी के मरीजों को शराब या अन्‍य मादक पदार्थों से दूर र‍हने की सलाह दी जाती है, ताकि इस बीमारी का सही ढंग से इलाज किया जा सके।

नेशनल एपिलेप्‍सी डे मनाने का मुख्य उद्देश्‍य लोगों को मिर्गी से संबंधित उपचार के बारे में जानकारी देना है। साथ ही कस्‍बों और गांवों में इस दिन लोगों को जरूरी दवाइयां वितरित की जाती हैं।

मिर्गी के लक्षण
– शरीर में अकड़न
– हाथ व पैरों में झुनझुनी
– मुंह से झाग निकलना
– बेहोशी
– चक्‍कर आना

मिर्गी के कारण
– जन्‍मजात कारण
– ब्रेन में इंफेक्‍शन होना
– सिर में चोट लगना
– लंबे समय तक तेज बुखार का होना
– ब्रेन स्‍ट्रोक

इतिहास
राष्ट्रीय मिर्गी दिवस मनाने की शुरुआत 2015 में हुई थी। इंटरनेशनल ब्‍यूरो और इंटरनेशनल लीग अगेंस्‍ट एपिलेप्‍सी द्वारा इसे आयोजित किया गया था। इस दिन देशभर में लोगों को मिर्गी के लक्षणों, कारणों और उपचार के बारे में जानकारी दी जाती है साथ ही लोगों को अपना अनुभव शेयर करने को मौका भी दिया जाता है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

​बिल नहीं भरा तो अस्पताल ने शव देने से किया मना

हुगली : चंदननगर के एक नर्सिंग होम में इलाजरत मरीज की मौत के बाद बिल के भुगतान को लेकर मामला इतना गरमाया कि अस्पताल प्रबंधन आगे पढ़ें »

गुजरात के नतीजों को लेकर प्रदेश भाजपा में जश्न

सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता : गुजरात चुनाव के नतीजों को लेकर प्रदेश भाजपा में जश्न का माहौल है। गुरुवार को सुबह से ही मुरलीधर सेन लेन स्थित आगे पढ़ें »

ऊपर