महंगाई की मार : क्या 1000 रुपये का हो जाएगा सिलिंडर?

नई दिल्ली : महंगाई के बोझ से जनता पहले ही परेशान है। आने वाले दिनों में आम आदमी को एक और झटका लग सकता है। जल्द ही ग्राहकों को एक रसोई गैस सिलिंडर के लिए 1,000 रुपये तक चुकाने पड़ सकते हैं। मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, केंद्र सरकार एलपीजी सिलिंडर पर मिलने वाली सब्सिडी बंद कर सकती है। ऐसे में ग्राहकों को सिलिंडर के लिए ज्यादा पैसे चुकाने पड़ेंगे।
दो रुख अपना सकती है सरकार
रिपोर्ट्स के अनुसार, सरकार के एक आंतरिक मूल्यांकन से पता चला है कि उपभोक्ता एक सिलिंडर के लिए 1,000 रुपये तक देने को तैयार हैं। इस संदर्भ में सरकार सिलिंडर की सब्सिडी को लेकर दो रुख अपना सकती है- पहला, मौजूदा समय में जैसा चल रहा है सरकार वैसा ही चनने दे। दूसरा, सरकार सिर्फ आर्थिक रूप से कमजोर उपभोक्ताओं को ही उज्ज्वला योजना के तहत सब्सिडी प्रदान करे। मालूम हो कि फिलहाल सरकार ने सब्सिडी के बारे में कुछ भी साफ-साफ नहीं कहा है।
सब्सिडी के रूप में उपभोक्ताओं को बांटे 3,559 करोड़ रुपये
उल्लेखनीय है कि वित्त वर्ष 2020-21 में सरकार ने सब्सिडी के रूप में उपभोक्ताओं को 3,559 करोड़ रुपये दिए थे। वहीं इससे पिछले वित्त वर्ष 2019-2020 में यह आंकड़ा 24,468 करोड़ रुपये था। इस तरह एक साल में सरकार ने सब्सिडी में लगभग छह गुना कटौती की है। मौजूदा समय में अगर उपभोक्ताओं की सालाना आय 10 लाख रुपये है, तो आपको सिलिंडर पर सब्सिडी का लाभ नहीं मिलता है।
इस साल 190.50 रुपये महंगा हुआ सिलिंडर
सिलिंडर के दाम के बारे में बात करें, तो दिल्ली में इस साल एक जनवरी को यह 694 रुपया का था। लेकिन अब यह बढ़कर 884.50 रुपये का हो गया है। यानी इस साल अब तक इसमें 190.50 रुपये की तेजी आई है। कोलकाता में इसका दाम 911 रुपये, मुंबई में 884.5 रुपये और चेन्नई में 900.5 रुपये है।
गैस सिलिंडर की कीमत हर महीने बदलती है। इसकी कीमत औसत अंतरराष्ट्रीय बेंचमार्क और विदेशी विनिमय दरों में बदलाव जैसे कारक निर्धारित करते हैं।

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

अजीबोगरीबः जन्म देने पहुंची तो पता चला कि गर्भवती ही नहीं

खड़गपुर में आया अजीबोगरीब मामला - गर्भवती न होने की बात जान पैरों तले खिसकी जमीन खड़गपुरः चिकित्सकों की राय पर यदि कोई महिला खुद को गर्भवती आगे पढ़ें »

ऊपर