कचौरी और समोसा खा रहे बंदर, बनाया जाए “मंकी सफारी”- हेमा मालिनी

Hema Malini

नई दिल्ली : भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की सांसद हेमा मालिनी बंदरों के लिए मंकी सफारी बनवाना चाहती हैं। उन्होंने गुरुवार को कहा कि बंदरों में मनुष्यों की खाने की आदत विकसित हो गई है जो कि अच्छी बात नहीं है। उन्होंने कहा कि मथुरा में बंदरों के लिए मंकी सफारी बनाई जाए ताकि बंदरों को खाने के लिए प्राकृतिक फल मिल सके। हेमा मालिनी ने कहा कि बंदर समोसा खाना और फ्रूटी पीना सीख गए हैं, उन्हें अब फल पसंद नहीं आ रहे, जो अच्छी बात नहीं है।

बंदरों के हमले से हो रही लोगों की मौत

लोकसभा में शुन्यकाल के दौरान मामले को उठाते हुए, हेमा मालिनी ने कहा कि मेरे लोकसभा क्षेत्र मथुरा में बंदरों के हमले से वृंदावन और उसके आसपास के इलाके में कई लोगों की मौत हो गई है। बंदरों के प्राकृतिक आवास सिकुड़ गए हैं और वे भोजन की तलाश में आवासीय इलाकों में चले जाते हैं, वृृंदावन में लोग उनके साथ सख्ती से निपटने के लिए मजबूर हैं। तीर्थयात्री बंदरों को कचौरी और समोसा जैसे तले हुए भोजन खाने को देते हैैं जिसके कारण वे बीमार पड़ रहे हैं। इसका असर स्‍थानीय लोगों पर भी पड़ रहा है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

बंगाल में कोरोना के 1390 आये नये मामले

कोलकाता : वेस्ट बंगाल कोविड-19 हेल्थ बुलेटिन के अनुसार पश्चिम बंगाल में पिछले 24 घंटे में कोरोना वायरस संक्रमण के 1390 नये मामले सामने आये आगे पढ़ें »

भारत में अल्पपोषित लोगों की संख्या छह करोड़ घटकर 14 प्रतिशत पर पहुंची : संयुक्त राष्ट्र

संयुक्त राष्ट्र : भारत में पिछले एक दशक में अल्पपोषित लोगों की संख्या छह करोड़ तक घट गई है। संयुक्त राष्ट्र की एक रिपोर्ट में आगे पढ़ें »

ऊपर