इस महिला से बात करने के लिए तरसते हैं पुरुष, एक मीटिंग के लिए कर देते हैं लाखों रुपए खर्च

नई दिल्ली : खबर की हेडिंग से आप समझ ही गए होंगे मामला अजीबो-गरीब है। अब आपके मन में तरह-तरह के सवाल भी उठ रहे होंगे कि आखिर इस महिला में क्या है, जिससे उसकी इतनी डिमांड और उससे बात करने के लिए लोग लोग इतने पैसे क्यों खर्च करते हैं? तो हम भी आपको ज्यादा इंतजार नहीं करवाते हैं और उस महिला के बारे में बताते हैं, जिससे मिलने के लिए लोग तरसते रहते हैं। इस महिला का नाम सामन्था है और वह मूलरूप से ऑस्ट्रेलिया की रहने वाली हैं। महिला ने दावा किया है कि पुरुष उनसे मिलने के लिए तरसते हैं और केवल बात करने के लिए अप्वाइंटमेंट लेते हैं। इतना ही नहीं इसके लिए लोग लाखों रुपए फीस भी देते हैं। अब आपके मन में सवाल उठ रहा होगा कि ऐसा क्या है इस महिला में, तो हम आपको बता दें कि ये महिला एडल्ट इंडस्ट्री में काम करती हैं और दो किताबें भी लिख चुकी हैं। महिला का कहना है कि मैं बहुत खुशनसीब हूं कि लोग मेरे पास आते हैं और अपनी जिंदगी से जुड़ी बातें मुझसे शेयर करते हैं। उसने बताया कि लोग अपने प्रेशर के बारे में मुझे बताते हैं साथ ही जीवन और रिलेशनशिप में क्या सही और गलत चल रहा है उसके बारे में भी बताते हैं।
केवल बात करने के लिए लोग करते हैं लाखों रुपए खर्च

महिला ने बताया कि लोगों से बात करके और उनके बारे में जानकर मैंने दो किताबें भी लिख दी। उसका कहना है कि ज्यादातर लोग मुझे केवल इसलिए बुक करते हैं, क्योंकि वो मुझसे बात करना चाहते हैं। इतना ही नहीं उसने कई लोगों से ये भी कहा है कि मैं एक मीटिंग के लिए लाखों रुपए लेती हैं। इसके बावजूद लोग मुझसे बात करने के लिए तैयार रहते हैं। जबकि, उन्हें काउंसलर की जरूरत होती है। लेकिन, लोग मेरे पास ही आना पसंद करते हैं। गौरतलब है कि सामन्था पहले जर्नलिस्ट थीं। लेकिन, उन्होंने जॉब छोड़ दिया और बाद में एडल्ट इंडस्ट्री ज्वाइन कर लिया।

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

…पर अफसर बनने के बाद भूल जाते हैं गुरु को

हाई कोर्ट के मामलों के आईने में दिखती है गुरुओं की पीड़ा सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता : कबीर दास का एक दोहा है : ‘गुरु गोविन्द दोऊ खड़े आगे पढ़ें »

ऊपर