‘बिन बुलाए जाकर बिरयानी खाने से नहीं सुधरते अंतरराष्ट्रीय रिश्ते’, PM मोदी पर मनमोहन सिंह का हमला

नई दिल्ली :  5 राज्यों के विधानसभा चुनावों  के बीच देश के पूर्व प्रधानमंत्री और कांग्रेस के वरिष्ठ नेता डॉ मनमोहन सिंह ने केंद्र की सत्तासीन मोदी सरकार पर निशाना साधा है। मनमोहन सिंह ने कोरोना महामारी से लेकर रोजगार, महंगाई और सरकार की आर्थिक-विदेश नीति पर सवाल उठाया। इस दौरान डॉ मनमोहन सिंह ने पीएम मोदी की विदेश नीति पर प्रश्न चिन्ह लगाते हुए कहा कि बिन बुलाए जाकर बिरयानी खाने से अंतर्राष्ट्रीय रिश्ते नहीं सुधरते हैं।
सरकार की नीति पर निशाना साधते हुए पूर्व पीएम मनमोहन सिंह ने कहा कि बीजेपी की सरकार को आर्थिक नीति की कोई समझ नहीं है। मामला देश तक सीमित नहीं है। यह सरकार विदेश नीति पर भी विफल रही है। चीन हमारी सीमा पर बैठा है और उसे दबाने की कोशिश की जा रही है। डॉ मनमोहन सिंह ने पीएम नरेंद्र मोदी पर करारा हमला करते हुए उन्हें उनके पाकिस्तान दौरे की याद दिलाई मनमोहन सिंह ने कहा कि गले लगाने से या बिना निमंत्रण के बिरयानी खाने से रिश्ते नहीं सुधरते हैं। पीएम मोदी अपने पहले कार्यकाल में पाकिस्तान के दौरे पर गए थे। तब नवाज शरीफ पाकिस्तान के पीएम थे।
अमीर लोग अमीर हो रहे हैं और गरीब लोग गरीब
मोदी सरकार पर हमला बोलते हुए मनमोहन सिंह ने कहा कि बीजेपी के शासन में अमीर लोग अमीर हो रहे हैं जबकि गरीब लोग गरीब हो रहे हैं। पूर्व प्रधानमंत्री ने आगे कहा कि इस सरकार का नकली राष्ट्रवाद जितना खोखला है, उतना ही खतरनाक है। इनका राष्ट्रवाद अंग्रेजों की बांटों और राज करो की नीति पर टिका है। संवैधानिक संस्थाओं को लगातार कमजोर किया जा रहा है। ये सरकार विदेश नीति के मोर्चे पर भी पूरी तरह फेल साबित हुई है।
मोदी सरकार की नीतियां हैं खराब
डॉ मनमोहन सिंह ने कहा कि कोरोना के दौरान केंद्र सरकार की खराब नीतियों के कारण लोग आर्थिक, बेरोजगारी और बढ़ती महंगाई से परेशान हैं। 7.5 साल सरकार चलाने के बाद सरकार अपनी गलती मानने और सुधार करने की बजाए पहले प्रधानमंत्री जवाहरलाल नेहरू को जिम्मेदार ठहराने पर लगी है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

खुशखबरी : अब हावड़ा से पुरी के लिए चलेगी वंदे भारत एक्सप्रेस

कोलकाता: हावड़ा से एनजेपी तेज गति से चल रही है वंदे भारत एक्सप्रेस। इसी बीच एक और बड़ी खबर आ रही है।  रेलवे सूत्रों ने आगे पढ़ें »

ईडी के सामने कुंतल का विस्फोटक बयान, कहा पार्थ चटर्जी ने भी लिये थे 15 करोड़ रुपये

कोलकाताः शिक्षक भर्ती भ्रष्टाचार मामले में गिरफ्तार पार्थ चटर्जी इसी मामले में फंसे कुंतल घोष के भी संपर्क में थे। ईडी की पूछताछ में तृणमूल आगे पढ़ें »

ऊपर