सपनों को लोकल नहीं ग्लोबल बनायें युवा कारोबारी : मोदी

नयी दिल्ली : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भारत के स्टार्टअप कारोबारियों की खुद को आसानी से दुनिया के दूसरे देशों तक पहुंचा सकने की क्षमता पर भरोसा जताते हुए उन्हें सलाह दी है कि वे अपने सपनों को स्थानीय (लोकल) नहीं बल्कि वैश्विक (ग्लोबल) बनायें।
16 जनवरी को राष्ट्रीय स्टार्टअप दिवस
प्रधानमंत्री ने शनिवार को देशभर के स्‍टार्टअप कारोबारियों को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिये संबोधित करते हुए उन सभी इनोवेटिव युवाओं बधाई दी जो स्टार्टअप की दुनिया में भारत का झंडा बुलंद कर रहे हैं। उन्होंने स्टार्टअप इकाइयों को नये भारत का ‘आधार-स्तंभ’ बताते हुए कहा कि देश में हर साल 16 जनवरी को राष्ट्रीय स्टार्टअप दिवस मनाया जायेगा ताकि स्टार्टअप की यह संस्कृति देश के दूरदराज क्षेत्रों तक पहुंचे। ‘आजादी का अमृत महोत्सव’ के एक भाग के रूप में वाणिज्य और उद्योग मंत्रालय के तहत उद्योग एवं आंतरिक व्यापार संवर्द्धन विभाग (डीपीआईआईटी) द्वारा 10 से 16 जनवरी तक एक सप्ताह चलने वाले कार्यक्रम ‘सेलिब्रेटिंग इनोवेशन इको-सिस्टम’ का आयोजन किया जा रहा है।
वैश्विक नवाचार सूचकांक में हुआ सुधार
उन्होंने कहा कि बीते साल 42 यूनिकॉर्न देश में बने हैं। हजारों करोड़ रुपये की ये कंपनियां आत्मनिर्भर होते हुए आत्मविश्वासी भारत की पहचान हैं। वैश्विक नवाचार सूचकांक (ग्लोबल इनोवेशन इंडेक्स) में भी भारत की रैंकिंग में बहुत सुधार आया है। वर्ष 2015 में इस रैंकिंग में भारत 81 नंबर पर था। अब इनोवेशन इंडेक्स में भारत 46 नंबर पर है। उन्होंने कहा कि 2013-14 में जहां 4 हजार पेटेंट को स्वीकृति मिली थी, वहीं पिछले वर्ष 28 हजार से ज्यादा पेटेंट मंजूर किये गये हैं। वर्ष 2013-14 में जहां करीब 70 हजार ट्रेडमार्क्स रजिस्टर हुए थे, वहीं 2020-21 में ढाई लाख से ज्यादा ट्रेडमार्क्स रजिस्टर किये गये हैं।
छात्रों में हो नवाचार के प्रति आकर्षण
मोदी ने कहा कि सरकार की कोशिश है कि देश में बचपन से ही छात्रों में नवाचार के प्रति आकर्षण पैदा किया जाये। उन्होंने कहा कि 9 हजार से ज्यादा अटल टिंकरिंग लैब आज बच्चों को स्कूलों में इनोवेट करने और नये विचार पर काम करने का मौका दे रही हैं। चाहे ड्रोन को लेकर नये नियम हों या फिर नयी अंतरिक्ष नीति सरकार की प्राथमिकता, ज्यादा से ज्यादा युवाओं को इनोवेशन का मौका देने की है। इसके लिए आईपीआर पंजीकरण से जुड़े नियम काफी सरल कर दिये गये हैं।

इनोवेशन, इंडस्ट्री और इनवेस्टमेंट का नया दौर
प्रधानमंत्री ने कहा कि यह इनोवेशन यानी आइडिया, इंडस्ट्री और इनवेस्टमेंट का नया दौर है। आपका श्रम भारत के लिए है। आपका उद्यम भारत के लिए है। आपकी वेल्थ क्रिएशन भारत के लिए है, रोजगार सृजन भारत के लिए है। भावी तकनीकि से जुड़े अनुसंधान और विकास पर निवेश सरकार की प्राथमिकता है। एजेंसियां

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

महिला ने की ऐसी हरकत कि पति का प्राइवेट पार्ट हुआ खराब

नई दिल्ली : एक महिला ने पति के प्राइवेट पार्ट के ऊपर Insulation Spray का इस्तेमाल कर दिया। एक्सपर्ट्स का कहना है कि पीड़ित शख्स आगे पढ़ें »

आईपीएलः हार्दिक करेंगे अहमदाबाद की कप्तानी

शादी से पहले प्रेमिका से मिलने पहुंचे प्रेमी को पिता ने जिंदा जलाया

मोहम्मद सिराज ने अपने ‘सुपरहीरो’ विराट कोहली को लेकर लिखी भावुक पोस्ट, कहा- “आप हमेशा मेरे कप्तान रहेंगे”

अनुज को मिलेगा प्यार का ओवरडोज तो समर और वनराज पर भड़केगी अनुपमा

मल्लिक बाजार सिनेमा हॉल में लगी भयावह आग, इलाके में तनाव

रीता बहुगुणा के बेटे को टिकट मिली तो वे सांसदी छोड़ने को हैं तैयार

आती ट्रेन के सामने महिला को दिया धक्का, बोला- मैं भगवान हूं, देखिए वीडियो…

राहुल गांधी ने कसा मोदी पर तंज- इतना झूठ तो टेलीप्रॉम्पटर भी नहीं झेल

फरमान जारी : कोई भी सांसद किसी भी दस्तावेज पर नहीं करेगा हस्ताक्षर

ऊपर