पति के बॉस को पत्नी ने लिखा ऐसा पत्र कि मामला इंटरनेट पर छाया!

नई दिल्ली : सोशल मीडिया पर एक पत्नी द्वारा पति के बॉस को लिखा गया पत्र वायरल हो गया है। दरअसल, इस खत में महिला ने बॉस से गुजारिश की कि वह उसके पति को वापस दफ्तर बुला लें। दरअसल, वर्क फ्रॉम होम के कारण पत्नी, पति की बहुत सी अदातों से दुखी हो चुकी है जिसके कारण उसने पति के बॉस को ये खत लिख दिया। इस पत्र में महिला ने यह भी कहा कि अगर जल्द ही वर्क फ्रॉम ऑफिस नहीं शुरू किया गया तो उनकी शादी ज्यादा समय तक नहीं चल पाएगी! हालांकि, मामला इंटरनेट पर छाने के बाद बहुत से लोगों ने कहा कि यह तो घर-घर की कहानी है।
समझ नहीं रहा क्या जवाब दूं

बिजनेसमैन हर्ष गोयनका ने 9 सितंबर को यह पत्र ट्वीट किया था। उन्होंने कैप्शन में लिखा- समझ नहीं आ रहा कि उसे कैसे जवाब दूं…। उनका ये ट्वीट सोशल मीडिया पर छा चुका है। 

 

पत्नी ने पत्र में क्या लिखा?

प्रिय सर, मैं आपके कर्मचारी मनोज की पत्नी हूं। आपसे विनम्र निवेदन है कि अब उन्हें वर्क फ्रॉम ऑफिस (दफ्तर से काम) की इजाजत दे दी जाए। वह वैक्सीन की दोनों डोज ले चुके हैं। वह कोविड प्रोटोकॉल के सभी नियमों का पालन भी करेंगे। अगर कुछ और समय तक वर्क फ्रॉम होम जारी रहा, तो निश्चित रूप से हमारी शादी और नहीं चल पाएगी।

महिला ने पत्र में आगे लिखा, ‘यह आदमी दिन में दस बार कॉफी पीता है। अलग-अलग कमरों में बैठकर उनमें गंदगी फैला देता है, और लगातार कुछ न कुछ खाने के लिए मांगता रहता है। यहां तक मैंने उसे काम के दौरान सोते हुए भी देखा है। पहले से ही मुझे दो बच्चों की देखभाल करनी होती है। ऐसे में बस आपका सपोर्ट चाहती हूं ताकि मेरी ‘मानसिक शांति’ लौट सके। 

पत्र के वायरल होने के बाद सैकड़ों लोगों ने इस पर अपनी प्रतिक्रिया दी। कुछ ने कहा कि पति को तत्काल प्रभाव से दफ्तर बुला लेना चाहिए। जबकि कुछ ने बंदे की सैलिरी में इजाफा करने का सुझाव दिया। ताकि वो पत्नी की सहायता के लिए घर में कॉफी मशीन आदि ला सके। और हां, कुछ ने कहा कि पति को हटाकर पत्नी को नौकरी पर रख लेना चाहिए।

 

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

एक ऐसा भी स्कूल जहां 11 साल से कोई हेडमास्टर नहीं

हावड़ा के बालटिकुरी दे उच्च विद्यालय का मामला हाई कोर्ट ने तलब किया था टीचर इंचार्ज को सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता : हाई कोर्ट के जस्टिस अभिजीत गंगोपाध्याय यह आगे पढ़ें »

ऊपर