तीस हजारी अदालत में वकीलों ने किया प्रदर्शन, कामकाज रहा ठप्प

Lawyer protest

नई दिल्ली : सोमवार को दिल्ली उच्च न्यायालय तथा राष्ट्रीय राजधानी की सभी जिला अदालतों के वकील हड़ताल पर नजर आए। दरअसल, शनिवार को तीस हजारी अदालत परिसर में पुलिस और वकीलों के बीच हुए झड़प मामले में वकील आज प्रदर्शन पर उतर आए। इस प्रदर्शन के चलते वकील अदालती कार्यवाही में हिस्सा नहीं ले रहे हैं और केवल उनके प्रतिनिधि मामलों के लिए अदालत से तारीख ले रहे हैं। इस तरह अदालत का सारा कामकाज ठप्प पड़ गया है।

पुलिस हमले के विरोध में जारी प्रदर्शन

दिल्ली उच्च न्यायालय बार एसोसिएशन के कार्यकारी सदस्य, अधिवक्ता नगिंदर बेनिपाल ने कहा कि उच्च न्यायालय में काम से बहिष्कृत रहने और विरोध करने के अनुरोध का वकीलों ने समर्थन किया है। उन्होंने कहा, ‘‘वकीलों पर पुलिस द्वारा किए गए हमले के मद्देनजर हम काम नहीं कर रहे हैं। हम वकीलों में एकजुटता लाने का प्रयास कर रहे हैं। आज हम कार्यकारी समिति की बैठक करेंगे जिसके तहत आने वाले समय में की जाने वाली कार्रवाई पर विचार कर फैसला किया जाएगा।’’ इसी तरह, राष्ट्रीय राजधानी की छह जिला अदालतों – तीस हजारी, कड़कड़डूमा, साकेत, द्वारका, रोहिणी और पटियाला हाउस में आज पूरे दिन काम को छोड़कर वकील हड़ताल पर हैं। भविष्य की कार्रवाई को लेकर दिन के उत्तरार्ध में होने वाली बैठकों में निर्णय किया जाएगा।

वकीलों ने किया काम से बहिष्कार

दिल्ली की सर्व जिला अदालत बार एसोसिएशन की समन्वय समिति के महासचिव अधिवक्ता धीर सिंह कसाना ने कहा कि साकेत जिला अदालत में काम का पूरी तरह बहिष्कार किया गया है। जनता को अदालत परिसर के भीतर जाने से भी मना किया गया है। उन्होंने बताया, ‘‘हम किसी भी वकील को अदालत के भीतर जाने नहीं दे रहे हैं। हम गेट पर बैठे हैं और सभी से शामिल होने का आग्रह कर रहे हैं।’’ तीस हजारी बार एसोसिएशन के सचिव, अधिवक्ता जयवीर सिंह चौहान का कहना है कि तीस हजारी में वकीलों ने काम पर रोक लगा दी है।

दिल्ली बार काउंसिल के अध्यक्ष के सी मित्तल ने कहा कि वे सभी बार एसोसिएशनों का समर्थन करते हैं और हड़ताल करेंगे। मित्तल ने कहा, ‘‘हम उनकी सहायता करेंगे। समाज के व्यापक हित में यह आवश्यक है। हम बार एसोसिएशनों का मत जानेंगे और उनका समर्थन करेंगे।’’

शनिवार को हुई थी पुलिस और वकील में झड़प

गौरतलब है कि शनिवार को तीस हजारी अदालत परिसर के पार्किंग एरिया में एक वकील और पुलिस की गाड़ी आपस में टकरा गई जिसके बाद दोनों पक्षों में विवाद बढ़ा और परिसर में गोलीबारी हो गई।‌ वकीलों द्वारा पुलिस पर कड़ी कार्रवाई करने की मांग की गई है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

मैच फीट के लिए चार चरण में अभ्यास करेंगे भारतीय क्रिकेटर : कोच श्रीधर

नयी दिल्ली : भारत के क्षेत्ररक्षण कोच आर श्रीधर का कहना है कि देश के शीर्ष क्रिकेटरों के लिए चार चरण का अभ्यास कार्यक्रम तैयार आगे पढ़ें »

नस्लभेद के खिलाफ आवाज बुलंद करे आईसीसी : सैमी

नयी दिल्ली : वेस्टइंडीज के पूर्व टी-20 कप्तान डेरेन सैमी ने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (आईसीसी) और अन्य क्रिकेट बोर्डों से नस्लभेद के खिलाफ आवाज बुलंद आगे पढ़ें »

ऊपर