गणतंत्र दिवस पर जानिए भारतीय संविधान की पांच खास बातें

कोलकाता : दुनिया के सबसे बड़े लोकतांत्रिक देश भारत के लिए 26 जनवरी का दिन अहम है। इस दिन भारतीय संविधान लागू हुआ था। इस साल भारतवासी 73वां गणतंत्र दिवस मना रहे हैं। देश की आजादी के बाद भारतीस संविधान का गठन हुआ था। बाबा साहेब भीम राव आंबेडकर को संविधान निर्माता कहा जाता है लेकिन बाबा साहब के अलावा देश के संविधान के निर्माण में 210 लोगों का हाथ था। भारत के संविधान को कई बाते खास बनाती हैं। संविधान को दिसंबर में ही अपना लिया गया था, लेकिन 26 जनवरी को लागू करके इस दिन को गणतंत्र दिवस के तौर पर घोषित कर दिया गया, इसके पीछे खास वजह थी। वहीं भारतीय संविधान हाथ के बने कागज पर हाथों से लिखा गया है लेकिन इतने सालों से इन कागजों को संजोकर रखना बड़ी बात है। भारत के संविधान से जुड़ी ऐसी ही कई और बाते हैं जो हर भारतीय को पता होनी चाहिए।
भारतीय संविधान सभा
संविधान सभा की पहली बैठक 9 दिसंबर 1946 को सुबह 11 बजे हुई थी। संविधान सभा में कुल 210 सदस्य शामिल थे, जिसमें 15 महिलाएं शामिल थीं। उसके दो दिन बाद यानी 11 दिसंबर को 1946 को संविधान सभा की बैठक में डॉ. राजेंद्र प्रसाद को स्थायी अध्यक्ष के तौर पर चयन हुआ। 13 दिसंबर 1946 को पंडित जवाहरलाल नेहरू ने संविधान का उद्देश्य प्रस्ताव सभा में प्रस्तुत किया था, जो 22 जनवरी 1947 को पारित किया है।
26 जनवरी को क्यों लागू हुआ संविधान
1949 में 26 नवंबर को संविधान सभा ने संविधान को अपना लिया था लेकिन लागू 26 जनवरी को किया। इसकी वजह थी कि 26 जनवरी 1930 में आज ही के दिन भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस ने भारत को पूर्ण स्वराज घोषित किया था। 20 साल बाद उसी दिन संविधान लागू कर दिया गया।
संविधान की मूल प्रति कहां रखी है
भारतीय संविधान की मूल प्रति हाथ से बने कागज पर हाथों से लिखी है, इसे संसद भवन के पुस्तकालय में नाइट्रोजन गैस चैंबर में रखा गया है। ताकि संविधान के मूल प्रति को संरक्षित रखा जा सके।
राजेंद्र प्रसाद ने की थी घोषणा
भारत के पहले राष्ट्रपति डॉ, राजेन्द्र प्रसाद ने 21 तोपों की सलामी के बाद भारतीय राष्ट्रीय ध्वज को फहराकर भारतीय गणतंत्र के जन्म की ऐतिहासिक घोषणा की थी। आजाद होने के 894 दिन बाद भारत स्वतंत्र राज्य बना।

 

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

स्वतंत्रता दिवस पर महानगर में तैनात रहेंगे 2500 पुलिस कर्मी

रेड रोड में मौजूद रहेंगे 1200 पुलिस कर्मी 6 वॉच टॉवर, 11 बंकर और 3 क्यूआरटी किए गए तैनात 6 ज्वाइंट सीपी, 20 डीसी और 40 एसीपी आगे पढ़ें »

ऊपर