बंगाल में चल रही है भाजपा की सुनामी – केशव प्रसाद मौर्य

उत्तर प्रदेश के उप मुख्यमंत्री से सन्मार्ग की खास बातचीत

मधु सिंह, कोलकाता : बंगाल में भाजपा की सुनामी चल रही है, हम बंगाल में 200 से अधिक सीटें जीतने वाले हैं। सन्मार्ग के साथ खास बातचीत में उत्तर प्रदेश के डिप्टी सीएम व वरिष्ठ नेता केशव प्रसाद मौर्य ने उक्त बातें कहीं। राज्य में विधानसभा चुनाव को देखते हुए केशव मौर्य को हावड़ा, उलूबेड़िया, श्रीरामपुर, आरामबाग और हुगली लोकसभा क्षेत्रों की जिम्मेदारी दी गयी है। पश्चिम बंगाल की राजनीति से जुड़े विभिन्न मुद्दों पर उन्होंने काफी कुछ कहा।
सवाल – किन मुद्दों पर भाजपा बंगाल में चुनाव लड़ेगी ?
जवाब – सन्मार्ग पश्चिम बंगाल का बड़ा अखबार है, स्वामी विवेकानंद जी की जन्म जयंती है इसलिए सबको शुभकामनाएं। आजादी के बाद से पश्चिम बंगाल कुशासन का ​शिकार रहा है। सबसे अधिक गुण्डागिरी, अराजकता, हिंसा ममता दीदी के राज में लोगों को झेलनी पड़ रही है। गरीब और किसान अपने अधिकारों से वंचित हैं। पूरे राज्य में बदला हुआ माहौल है, भाजपा की सुनामी इस समय चल रही है। 200 से अधिक सीटें विधानसभा चुनाव में हम जीत रहे हैं। पश्चिम बंगाल के 73 लाख किसान सम्मान निधि से अब तक वंचित हैं। किसानों के हक में पैसा जाने से क्यों रोक रही हैं ममता जी, यह समझ से परे है। यह किसानों से जुड़ा हुआ बड़ा मुद्दा है। इसी तरह आयुष्मान भारत से भी गरीबों को वं​चित रखा गया, यह सत्ता में बैठकर अहंकार का प्रदर्शन है। ममताजी इन सब कारणों से पूरी तरह अलोकप्रिय हो गयी हैं और इस बार तृणमूल सरकार को उखाड़ फेंकेंगे। जय श्रीराम का नारा बंगाल में परिवर्तन का महामंत्र बन चुका है।
सवाल – बाहरी का मुद्दा काफी हावी है, भाजपा नेताओं को बाहरी कहा जा रहा है। क्या कहेंगे ?
जवाब – किसी भी राज्य में चुनाव होते हैं तो दूसरे राज्य के नेता व कार्यकर्ता उस राज्य में जाते हैं और पार्टी के लिए काम करते हैं। ये धरती स्वामी विवेकानंद जी की धरती है, अब अगर ममता दी यह कहें कि हिंदुस्तान के लोग क्यों स्वामी विवेकानंद का आदर करते हैं तो यह ममताजी की छोटी सोच है। डॉ. श्यामा प्रसाद मुखर्जी इसी धरती से थे। पश्चिम बंगाल का मुख्यमंत्री बंगाल का होगा, यहां विधायक भी बंगाल के चुने जाएंगे।
सवाल – तृणमूल कहती है कि हमने लोगों को स्वास्थ्य साथी से लेकर कई तरह की योजनाएं दीं, भाजपा ने कुछ नहीं किया तो जनता क्यों वोट देगी भाजपा को ?
जवाब – ये ममताजी का डर बोल रहा है। उन्होंने आयुष्मान भारत योजना नहीं लागू की जबकि ये हर नागरिक का अधिकार है। ये ममता सरकार की विफलता है। अब विदाई बेला में आयुष्मान के विकल्प के रूप में लोगों को गुमराह करने की कोशिश की जा रही है। स्वामी विवेकानंद की जयंती कभी तृणमूल नहीं मनाती थी, लेकिन इस बार मनाया जा रहा है। लोगों के दिल व दिमाग में भाजपा है। इस बार भाजपा को वोट देकर देखिये।
सवाल – जेपी नड्डा के काफिले पर हमले के बाद राज्य में धारा 356 लागू करने की मांग उठी थी?
जवाब – जनता की अदालत ही सबसे बड़ी अदालत है। राष्ट्रपति शासन लगाने का काम पहले आता तो जरूर होता, लेकिन अब जनता की अदालत में ही फैसला होगा। भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष के काफिले पर हमला ममता सरकार की विफलता और साजिश दोनों है क्योंकि सुरक्षा की जिम्मेदारी राज्य सरकार की होती है। यहां भाजपा की सरकार बनेगी तो गुण्डे और अपराधियों को दंड दिया जाएगा, फर्जी मुकदमे वापस लिये जाएंगे।
सवाल – भाजपा की सरकार आयी तो क्या यूपी की तरह बंगाल में भी लव जिहाद कानून लागू होगा ?
जवाब – यहां जबरिया यानी जो झूठ बोलकर या धोखा देकर विवाह करते हैं, धर्म बदलवाते हैं, उनकी सुरक्षा करना हमारी जिम्मेदारी है। महिला उत्पीड़न को रोकने के लिए आवश्यक कदम उठाये जाएंगे। अब दो अलग धर्म के लोगों के विवाह करने से पहले स्थानीय प्रशासन काे सूचना देनी होगी, जांच के बाद विवाह से नहीं रोका जाएगा।
सवाल – बंगाल में सवा करोड़ हिन्दीभाषी हैं, 10% को तृणमूल टिकट देने वाली है, लेकिन भाजपा में कहीं नहीं दिखते ?
जवाब – पश्चिम बंगाल और अन्य राज्यों के निवासियों में भाजपा अंतर नहीं देखती। जिनको लड़ाने से विजय मिलेगी, उनको लड़ाया जाएगा। सबको स्थान, सबको सम्मान देती है भाजपा।

शेयर करें

मुख्य समाचार

रोजवैली मामले में सीबीआई ने शुभ्रा कुंडू को किया ​गिरफ्तार

आज भुवनेवर कोर्ट में किया जाएगा पेश कोलकाता : 17000 करोड़ के बंगाल के सबसे बड़े घोटाले रोजवैली कांड में सीबीआई की टीम ने गौतम कुंडू आगे पढ़ें »

मेरी मातृभाषा गुजराती है और हिंदी मेरी मौसी है : आरजे वशिष्ठ

कोलकाताः "कोलकाता से मेरा नाता काफी पुराना है। सिटी ऑफ जॉय कहे जाने वाले इस शहर का नाम ही इतना प्यारा है तो इस जगह आगे पढ़ें »

ऊपर