कब खत्म होगी कश्मीरी पंडितों की पीड़ा? केपीएसएस प्रमुख के आमरण अनशन का आज 10वां दिन

जम्मू: कश्मीरी पंडितों की मांग को लेकर कश्मीरी पंडित संघर्ष समिति (केपीएसएस) के अध्यक्ष संजय टिकू का आमरण अनशन मंगलवार को दसवे दिन भी जारी रहा। समिति की मांग है कि घाटी में रह रहे समुदाय के लोगों को केंद्र सरकार के रोजगार पैकेज के तहत रोजगार दिया जाए और गैर प्रवासी कश्मीरी हिन्दुओं के रहने की व्यवस्था की जाए।

पुनर्वास विभाग पर लगाया अनदेखी का आरोप

पाकिस्तान प्रायोजित आंतकवाद के सिर उठाने के बावजूद घाटी न छोड़ने वाले कश्मीरी हिन्दुओं के कल्याण के लिए काम करने वाले संगठन केपीएसएस ने राहत और पुनर्वास विभाग पर आरोप लगाया कि उसने 1990 से लेकर अब तक सरकार द्वारा कश्मीरी हिंदुओं की समस्याओं को सुलझाने के हर प्रयास को विफल किया। नेताओं ने कहा कि टिकू और समुदाय के एक अन्य सदस्य संदीप कौल, नौ दिन से आमरण अनशन पर बैठे हैं। उन्होंने कहा कि टिकू और कौल श्रीनगर में गणपतयार के श्री सिद्धि विनायक गणेश मंदिर में 192 घंटे से आमरण अनशन पर बैठे हैं लेकिन प्रशासन इस मुद्दे पर अब भी चुप है और कश्मीरी हिन्दुओं के जीवन और भावनाओं से खिलवाड़ कर रहा है।

अनुच्छेद 370 के समाप्ति के बाद अत्याचार बढ़ा

केपीएसएस ने दावा किया है कि अनुच्छेद 370 के समाप्ति के बाद से नवगठित केंद्र शासित प्रदेश में स्थानीय प्रशासन द्वारा कश्मीरी पंडितों को परेशान और समाज से अलग किया जा रहा है। टिकू ने बताया कि अगर प्रशासन ने वक्त रहते ध्यान नहीं दिया तो 808 कश्मीरी पंडित परिवारों में से कई, जिन्होंने उग्रवाद की शुरुआत के कारण समुदाय के अधिकांश सदस्यों के प्रवास के बावजूद घाटी में बने रहने का फैसला किया है, वे भी आमरण अनशन में शामिल हो जाएंगे।

 

 

शेयर करें

मुख्य समाचार

उत्तर प्रदेश के गांवों में अनाज भंडारण के लिए बनेंगे 5000 गोदाम

लखनऊ : उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार किसानों को फसल सुरक्षित रखने और उसकी अच्छी कीमत दिलाने के लिये गांवों में 5000 भण्डारण गोदाम आगे पढ़ें »

गांजे की खेती वाले कमेंट पर भड़कीं कंगना रनौत, उद्धव ठाकरे पर किया पलटवार

  मुंबई: बॉलीवुड अभिनेत्री कंगना रनौत ने महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे के गांजे की खेता वाले कमेंट पर पलटवार करते हुए कहा कि जनसेवक होकर आप इस तरह आगे पढ़ें »

ऊपर