कोविड वैक्सीन नहीं तो टर्म इंश्योरेंस नहीं! कई बीमा कंपनियों ने की सख्ती

नई दिल्ली : कोविड काल में बीमा कंपनियां अब इंश्योरेंस पॉलिसी जारी करने में काफी सख्त रवैया अपना रही हैं। खबर यह है कि कई कंपनियों ने अब टर्म इंश्योरेंस के​ लिए वैक्सीनेशन की शर्त रख दी है। यानी जिन लोगों ने कोविड वैक्सीन लगवाई है, उन्हीं को टर्म इंश्योरेंस मिलेगा। इसके पहले भी बीमा कंपनियों ने कोविड मरीजों को टर्म पॉलिसी देने में सख्ती दिखाई थी। कंपनियां कोविड पेशेंट के रिकवर होने के बाद कम से कम तीन महीने के गैप के बाद ही पॉलिसी देना स्वीकार कर रही हैं। इस बार में भारतीय बीमा नियामक एवं विकास प्राधिकरण की राय अभी सामने नहीं आई है।
टीका लगवाने की शर्त
मिली जानकारी के अनुसार, मैक्स लाइफ इंश्योरेंस कंपनी 45 साल के ऊपर के सिर्फ उन्हीं लोगों को टर्म पॉलिसी दे रही है, जिन्होंने कोविड वैक्सीन का दोनों डोज लगवा लिया हो। इसी तरह टाटा AIA हर आयु वर्ग के सिर्फ उन्हीं लोगों को टर्म पॉलिसी जारी कर रही है, जिन्होंने कोविड वैक्सीन का कम से कम पहला डोज लगवा लिया हो
नये नियम-कायदे
गौरतलब है कि इसके पहले भी टर्म पॉलिसी देने के लिए बीमा कंपनियों ने काफी सख्ती दिखाई थी। लाइफ इंश्‍योरेंस कंपनियों के नए नियमों के मुताबिक, होम आइसोलेशन के जरिए भी आप कोविड-19 नेगेटिव होते हैं, तो 3 महीने तक किसी भी इंश्योरेंस कंपनी से टर्म इंश्योरेंस प्लान नहीं खरीद सकते हैं। इसके अलावा, टेलीमेडिकल की जगह अब टर्म इंश्योरेंस के लिए कंपनियां संपूर्ण मेडिकल टेस्ट पर ही जोर दे रही हैं।

शेयर करें

मुख्य समाचार

साल्टलेक सेक्टर-5 स्टेशन का भी निजीकरण

अब बंधन बैंक का लगा स्टेशन पर नाम कोलकाताः मेट्रो रेलवे की ओर से कई स्टेशनों को निजीकरण किए जाने की पहल पहले ही गई है। आगे पढ़ें »

महिला को डायन करार देकर पीटने का आरोप

मिदनापुर: पश्चिम मिदनापुर जिले के जंगलमहल इलाके में एक बार फिर से एक महिला को डायन करार देते हुए उसे बुरी तरह से पीटे जाने आगे पढ़ें »

ऊपर