भारतीय नौसेना का लड़ाकू विमान मिग 29 दुर्घटनाग्रस्त, दोनों पायलट सही सलामत

Mig 29 K

पणजी : भारतीय नौसेना का मिग 29के विमान शनिवार को गोवा में टेक ऑफ करने के थोड़ी देर बाद ही हादसे का शिकार हो गया। हालांकि इस हादसे में समय रहते दोनों पायलट बाहर निकल गए और अपनी जान बचाने में कामयाब रहे। दोनों पायलट प्रशिक्षण मिशन पर थे। हादसे का शिकार बना मिग 29के दरअसल लड़ाकू विमान का ट्रेनर संस्करण था।

नौसेना के प्रवक्ता कमांडर विवेक माधवाल ने बताया, ‘मिग-29के ट्रेनर एयरक्राफ्ट के इंजन में आग लग गई थी। पायलट कैप्टन एम शियोखंड और लेफ्टिनेंट कमांडर दीपक यादव उस विमान से सकुशल बाहर निकल गए।’ नौसेना का यह ट्रेनर विमान गोवा के किनारे उड़ रहा था।

पक्षी के टकराने से इंजन में लगी आंग

सूत्रों से प्राप्त जानकारी के अनुसार लड़ाकू विमान गोवा के डाबोलिम के आईएनएस हंसा में अपने ट्रेनिंग मिशन पर समुद्र के ऊपर उड़ान भर रहा था उसी दौरान एक पक्षी के विमान से टकरा जाने के कारण उसके दाएं इंजन में आग लग गई। आग लगने के बाद पायलट कैप्टन एम शेओखण्ड और लेफ्टिनेंट कमांडर दीपक यादव सुरक्षित इजेक्ट कर गए। यह विमान एक खुली जगह पर गिरा जिससे किसी भी तरह का नुकसान नहीं हुआ। घटना का आंखों देखा हाल बताते हुए लोगों ने कहा कि उन्होंने धुएं का गुबार और विमान गिरने के बाद दो पैराशूट को नीचे आते हुए देखा। नौसेना ने हादसे की जांच के लिये बोर्ड ऑफ इन्क्वायरी का गठन कर दिया है।

रक्षा मंत्री ने कहा दोनों पायलट से हुई बात

उल्लेखनीय है कि आईएनएस हंसा डाबोलिम भारतीय नौसेना का हवाई अड्डा है। इस घटना पर देश के रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा, ‘मैंने दोनों पायलटों कैप्टन एम शियोखंड और लेफ्टिनेंट कमांडर दीपक यादव से बात की। ये बहुत संतोष की बात है कि समय रहते दोनों विमान से बाहर निकलने में सफल रहे और सुरक्षित हैं। मैं उनके अच्छे स्वास्थ्य और तंदुरुस्ती की कामना करता हूं।’

लंबे समय से की जा रही थी विमान बदलने की मांग

मिग 29के असल में मिग 29 का कैरियर संस्करण है। कैरियर संस्करण वो विमान होते हैं जो किसी भी विमान वाहक पोत से उड़ान भरते हैं और लैंड करते हैं। इन विमानों को 5 दशक पूर्व नौसेना के बेड़े में शामिल किया गया था। अब इन मिग विमानों के क्रैश होने की घटनाएं आए दिन देखी जा रही हैं। वायुसेना के अधिकारी भी लंबे वक्त से इन प्रशिक्षण विमानों को बदलने की मांग कर रहे हैं लेकिन अब तक इस ओर कोई कदम नहीं उठाया गया है।

सितंबर में क्रैश हुआ था मिग ट्रेनर 21

इसी वर्ष सितंबर माह में मध्य प्रदेश के ग्वालियर में ऐसी ही घटना सामने आई थी जिसमें वायुसेना का मिग ट्रेनर 21 विमान हादसे का शिकार हो गया था। इस विमान हादसे में भी किसी तरह के नुकसान की कोई सूचना नहीं मिली क्योंकि समय रहते ही विमान के ग्रुप कैप्टन और स्कवाड्रन लीडर समेत दोनों पायलट सुरक्षित बच गए थे। यह विमान भी नियमित प्रशिक्षण उड़ान पर था जो ग्‍वालियर एयरबेस के नजदीक ही क्रैश हो गया था।

शेयर करें

मुख्य समाचार

वनडे क्रिकेट में किसी भी स्थान पर बल्लेबाजी को तैयार : रहाणे

नयी दिल्ली : भारतीय बल्लेबाज अजिंक्य रहाणे ने कहा कि उनकी अंतररात्मा की आवाज है कि वह एकदिवसीय प्रारूप में राष्ट्रीय टीम में वापसी करेंगे। आगे पढ़ें »

जरूरतमंद पूर्व खिलाड़ियों की मदद करती रहेगी सरकार : रीजिजू

नयी दिल्ली : खेलमंत्री किरेन रीजिजू ने शनिवार को कहा कि मंत्रालय जरूरतमंद पूर्व खिलाड़ियों की आर्थिक मदद करता रहेगा क्योंकि देश के लिये खेलते आगे पढ़ें »

ऊपर