भारतीय आईएस समर्थकों ने कहा – ‘तलवारें नहीं रुकेंगी’, शेयर की फ्रांसीसी टीचर के कटे सिर की तस्‍वीरें

पेरिस: फ्रांस में पैगंबर मोहम्‍मद साहब का कार्टून दिखाने पर एक टीचर का गला काटने की नृशंस घटना के बाद भारत में आतंकी संगठन आईएसआईएस के समर्थकों ने कथित रूप से धमकी देते हुए कहा है कि ‘अभी तलवारें नहीं रुकेंगी’ और उनकी कार्यवाई जारी रहेगी।

हत्यारे ने ईशनिंदा का लगाया था आरोप
इससे पहले चेचेन मूल के एक इस्‍लामिक कट्टरपंथी ने पेरिस के शिक्षक सैमुअल पैटी की गला काटकर हत्‍या कर दी थी। हत्‍यारे ने आरोप लगाया था कि सैमुअल ने क्‍लास में उसकी बेटी को पैगंबर का ‘विवादित’ कार्टून दिखाया था। टीचर की हत्‍या के बाद हत्‍यारे ने ‘अल्‍लाहू अकबर’ के नारे लगाए थे। बाद में मौके पर पहुंची पुलिस को भी उसने बंदूक दिखाकर डराने की कोशिश की मगर पुलिस की गोली का शिकार हो गया। घटनास्थल से करीब 10 गोलियां चलने की आवाज सुनी गई। गला काटने की क्रूर घटना के बाद पूरे फ्रांस में जोरदार प्रदर्शन हुए हैं।

भारतीय आईएस ने कटे सिर की तस्‍वीर की ऑनलाइन
रूसी समाचार ने अमेरिका के होमलैंड सिक्‍यॉरिटी विभाग के हवाले से बताया कि भारत में आईएस के समर्थकों ने फ्रांसीसी टीचर के कटे सिर की तस्‍वीर अपने ऑनलाइन मैगजीन में प्रकाशित की है। साथ ही आतंकियों ने धमकी दी है कि जो कोई भी पैगंबर मोहम्‍मद के खिलाफ ईशनिंदा करेगा उसका यही अंजाम होगा।

आईएस ने कहा – ‘ईशनिंदा देगी तलवारों को न्योता’
बताया जा रहा है कि हत्‍यारों ने टीचर के कटे सिर की तस्‍वीर को सबसे पहले सोशल मीडिया पर शेयर किया था। अब इसी तस्‍वीर को कथित रूप से आईएस समर्थकों ने अपने ऑनलाइन मैगजीन में प्रकाशित किया है। इस तस्‍वीर के साथ तलवार की भी तस्‍वीर छपी है और एक संदेश लिखा है। इसमें कहा गया है, ‘अगर आपकी अभिव्‍यक्ति की आजादी आपको पैगंबर की आलोचना करने से नहीं रोकती है तो हमारी तलवारें पैगंबर की शान में गुस्‍ताखी करने से रोकेंगी।’ इससे पहले इसी पत्रिका ने अपने पाठकों का आह्वान किया था कि वे शार्ली एब्दो हमले को अंजाम दें जिसमें कम से कम 12 लोगों की मौत हो गई थी और 11 अन्‍य घायल हो गए थे। अभी तक आईएसआईएस ने पेरिस हत्‍याकांड की जिम्‍मेदारी नहीं ली है।

क्रूर घटना के बाद पूरे फ्रांस में जोरदार प्रदर्शन

कट्टरपंतियों के खिलाफ फांस पुलिस की कार्यवायी तेज
बता दें कि टीचर सैमुअल की गला काटकर हत्‍या करने के बाद पुलिस ने जोरदार कार्रवाई शुरू की है। फ्रांस की पुलिस ने दर्जनों स्‍थानों पर छापा मारा है और 80 से ज्‍यादा जांचें शुरू की हैं।

‘इस्‍लाम‍िक उग्रवादियों ने टीचर के खिलाफ फतवा जारी किया’
स्‍कूली छात्रा के पिता और कुख्‍यात इस्‍लामिक उग्रवादी ने फांसीसी टीचर के हत्‍या को लेकर फ्रांस के गृहमंत्री गेराल्‍ड दरमेनिन ने कहा, ‘उन्‍होंने (इस्‍लाम‍िक उग्रवादियों) ने संभवत: टीचर के खिलाफ फतवा जारी किया था।’

यह घटना ऐसे वक्त में हुई है जब पेरिस में 2015 में हुए शार्ली एब्दो हमले की सुनवाई चल रही है। वह आतंकी हमला भी पैगंबर मोहम्मद के कार्टून छापने से नाराज होकर किया गया था। यही नहीं, इस साल उस केस की सुनवाई शुरू होने के बाद मैगजीन ने फिर से कार्टून छापे थे जिस पर अल-कायदा ने फिर हमला करने की धमकी देते हुए कहा कि 2015 का हमला आखिरी नहीं था।

शेयर करें

मुख्य समाचार

16 साल में कई बड़े ब्रांड्स की चहेती बन गई श्री श्याम एग्रो

श्री श्याम एग्रो बायोटेक (Shri Shyam Agro Biotech) प्रा. लि. के डायरेक्टर रोहित खेतान एमबीए हैं। उनके पास उद्योग-व्यापार का 22 वर्षों से अधिक का आगे पढ़ें »

8 बेड की यूनिट से 4 मल्टी-स्‍पेशियलिटी अस्पतालों का रूप ले चुका है आईएलएस

अमेरिका की सर्जिकल रिव्यू कमेटी द्वारा सर्जन ऑफ एक्सीलेंस से नवाजे गए डॉ. ओम टांटिया ने 1999 में कोलकाता में लैप्रोस्कोपिक यूनिट स्‍थापित करने का आगे पढ़ें »

ऊपर