कब्जे में लिए गए चीनी सैनिक को भारत ने छोड़ा, चीन ने की दरख्वास्त

भारतीय सेना ने 2 दिन पहले लद्दाख में एक चीनी सैनिक को पकड़ा था। बताते चलें कि यह सैनिक सोमवार को रास्ता भटक कर वास्तविक नियंत्रण रेखा को पारकर लद्दाख के चुमार-डेमचोक इलाके में आ गया था। सूत्रों से मिली जानकारी के अनुुसार, भारतीय सेना उस सैनिक से पूछताछ कर रही थी कि क्या वह अनजाने में रास्‍ता भटक कर भारतीय क्षेत्र में प्रवेश कर गया या फिर वह जासूसी के मकसद से आया था।

चीन ने उसे लौटाने की रिक्वेस्ट की थी

पूछताछ के पश्चात भारतीय सेना ने मंगलवार रात को उसे चीन को सौंप दिया। बताया गया है कि भारतीय सेना ने सभी औपचारिकताएं पूरी करने के बाद चीनी सैनिक कॉरपोरल वांग या को चुशूल-मोल्दो मीटिंग पॉइंट पर पीपुल्स लिबरेशन आर्मी (पीएलए) के हवाले किया। गौरतलब है कि चीन का एक कॉरपोरल भारतीय सेना के नायक के बराबर होता है। पीएलए ने अपने सैनिक के गायब होने की जानकारी भारतीय सेना को भी दी थी और उसका पता लगाने की रिक्वेस्ट भेजी थी जिसके जवाब में भारत ने कॉरपोरल के पकड़े जाने की बात की पुष्टि थी।

सेना ने सोमवार को ही कहा था कि पीएलए सैनिक को डेमचोक से पकड़ा गया और उसे ऑक्सीजन, खाना और गर्म कपड़ों समेत चिकित्सीय सेवाएं दी गईं। उससे सीमापार चीनी सेना के फॉर्मेशन की जानकारी ली गई और सैन्य-नागरिक दस्तावेजों के बारे में पूछा गया।

गौरतलब है कि भारतीय सेना द्वारा चीनी सैनिक के पकड़े जाने की यह घटना ऐसे समय में हुई है जब दोनों देश एलएसी पर करीब पांच महिने से गतिरोध में हैं। भारत ने कोर कमांडर स्तर की सात बैठकों द्वारा तनाव को सुलझाने की कोशिशें भी की हैं मगर स्थिति तनावमुक्त होती नहीं दिखती। ऐसे में भारतीय सेना ने सर्दियों में लद्दाख के इलाकों में डटे रहने की तैयारियां कर ली हैं। भारत ने ऊंचाई वाले इलाकों लिए वॉरफेयर किट और विंटर क्लोथ अमेरिका से खरीदे हैं। बता दें कि भारत का लद्दाख के पैंगॉन्ग लेक के दक्षिण में 13 अहम चोटियों पर कब्जा है, जहां वे माइनस 25 डिग्री सेल्सियस टेम्परेचर में पूरी मुस्तैदी के साथ डटे हुए हैं।

शेयर करें

मुख्य समाचार

जमीन से करीब 29 मीटर नीचे होगा एस्प्लानेड मेट्रो स्टेशन

- अगले साल तक हावड़ा मैदान से साल्टलेक तक मेट्रो का लक्ष्य कोलकाताः एस्प्लानेड यानी हॉर्ट ऑफ दी सिटी। शहर की भीड़-भाड़ में कुछ खुली जगह। आगे पढ़ें »

आईटी कम्पनियों को सिलिकॉन वैली में दी गयी 100 एकड़ जमीन

कोलकाता : राज्य की सीएम ममता बनर्जी ने मंगलवार को कैबिनेट की बैठक के बाद बड़ी घोषणाएं की। सीएम ने कहा कि मंडिमंडल की बैठक आगे पढ़ें »

ऊपर