इस हाथ में लगवाएं कोरोना की वैक्सीन

नई दिल्ली : कोरोना का खतरा अभी पूरी तरह से टला नहीं है। राहत की बात है कि इसकी वैक्सीन अब बन चुकी है। भारत समेत पूरी दुनिया में वैक्सीनेशन की प्रक्रिया भी शुरू हो गई है। डॉक्टर, नर्स जैसे फ्रंटलाइन वर्कर्स के बाद पुलिसकर्मी और सफाईकर्मियों को दवा की डोज दी जा रही है। जबकि आम लोगों की बारी अंत में आएगी। वैक्सीन किस हाथ में लगवाएं? इसको लेकर कई तरह की गलतफहमियां और सवाल भी उठ रहे हैं। अब तक जितनी भी वैक्सीन को मान्यता मिली है, उनमें से अधिकतर को हाथ के ऊपरी हिस्से में लगाया जा रहा है। वैक्सीन के दो डोज एक महीने के अंतराल पर लगेंगे। वैक्सीन लगवाने के बाद लोग हाथ में हल्के दर्द की शिकायत कर रहे हैं। कुछ लोगों को ये दर्द थोड़ा ज्यादा महसूस हो रहा है। जिस कारण उन्हें कुछ दिन हाथ उठाने या उससे रोजमर्रा के काम करने में भी परेशानी हो रही है। इसके कारण कई लोग वैक्सीन लगवाने से हिचक रहे हैं या फिर कन्फ्यूजन में हैं। आइए एक्सपर्ट्स की सलाह के आधार पर आपकी इस कन्फ्यूजन को दूर करने का प्रयास करते हैं।

किस हाथ में लगवा सकते हैं वैक्सीन :

कोविड-19 की वैक्सीन भी अन्य सामान्य वैक्सीन की तरह ही है। इससे डरने या परेशान होने की जरूरत नहीं है। वैक्सीन किस हाथ में लगवाएं, ये बहुत बड़ा सवाल नहीं है। एक्सपर्ट्स बताते हैं कि वैक्सीन किसी भी हाथ में लगवाई जा सकती है। अधिकतर वैक्सीन की तरह इसे भी हाथ में इंजेक्ट किया जाता है। जिस कारण इंजेक्शन लगने वाली जगह पर कुछ दिनों तक हल्का सा दर्द महसूस होता है। वैसे तो वैक्सीन लगवाते समय डॉक्टर आपको जरूरी सलाह देगें, लेकिन अंतिम निर्णय आपको ही लेना है कि आप किस हाथ में वैक्सीन लगवाना चाहते हैं।

क्या है एक्सपर्ट्स की सलाह:

यह निर्णय पूरी तरह से आपका ही है कि आप अपने किस हाथ में वैक्सीन लगवाना चाहते हैं। लेकिन इसको लेकर एक्सपर्ट्स की अलग-अलग राय है। कुछ एक्सपर्ट्स का कहना है कि वैक्सिनेशन के लिए कम उपयोगी हाथ को चुनना ज्यादा सही निर्णय है। इसका मतलब है कि राइट हैंडर्स के लिए लेफ्ट हैंड और लेफ्ट हैंडर्स के लिए राइट हैंड । इसकी वजह यह है कि वैक्सीन लगने से एक या दो दिन हाथ में हल्का दर्द महसूस होता है। इसके चलते हाथ से काम करने में थोड़ी परेशानी होगी। कम उपयोगी हाथ में वैक्सीन लगवाना सही फैसला हो सकता है। वहीं, कुछ और एक्सपर्ट्स का कहना है कि दर्द से जल्दी राहत के लिए हाथ में मूवमेंट का बना रहना जरूरी है। इससे मांसपेशियों में ब्लड का सर्कुलेशन बना रहता है और दर्द से जल्द राहत मिलती है। वैक्सीनेशन के लिए अपने उपयोगी हाथ को चुनना भी सही फैसला होगा।

शेयर करें

मुख्य समाचार

चुनावी युद्ध में शब्दों के जहरीले तीर से लहुलूहान हो रहे हैं नेता

कोलकाता : विधानसभा चुनाव जैसे नजदीक आ रहे हैं, राज्य की राजनीति में उबाल बढ़ता जा रहा है। हालांकि कहा जा रहा है कि इस आगे पढ़ें »

रायदीघी से चुनाव नहीं लड़ना चाहती हैं तृणमूल की विधायक देवश्री

कहा - काफी अपमानित हुई हूं, धमकियां भी मिलीं सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता : विधानसभा चुनाव से पहले मशहूर अभिनेत्री व दो बार की तृणमूल विधायक देवश्री राय आगे पढ़ें »

ऊपर