क्या आप भी करते हैं Google सर्च पर ये 8 चीजें सर्च, हो सकते हैं ऑनलाइन स्कैम के शिकार

कोलकाताः जब भी हमें कुछ सर्च करना होता है तो हम सीधा Google Search पर जाते हैं। चाहें वो किसी का पता हो या कोई वेबसाइट या फिर किसी मूवी के बारे में, Google के जरिए हम हर टॉपिक के बारे में पता लगा सकते हैं। यह बेहद ही आसान होता है। हालांकि, Google सर्च पर भरोसा करना आपको काफी मुश्किल में डाल सकता है।

ऐसा इसलिए क्योंकि यहां से जो भी जानकारी मिलती है कई वो Google द्वारा चेक नहीं की गई होती है। इन्हीं सब का फायदा स्कैमर्स ने उठाया है। वे नकली वेबसाइट्स बनाते हैं और उस पर गलत एड्रेस और कॉन्टैक्ट डिटेल्स रखते हैं। कई बार तो वो गलत मेडिकल सर्विसेज और करियर एडवाइस भी देते हैं। कई ऐसे मामले देखे गए हैं जब लोग इस तरह की फेक वेबसाइट्स के झांसे में फंसे हैं।
Google पर जो भी कंटेंट मौजूद है उसकी प्रामणिकता को सत्यापित करना बेहद मुश्किल है। क्योंकि Google सर्च एक ऑनलाइन प्लेटफॉर्म है जहां आपको ऐसी वेबसाइट्स मिलती हैं जो आपको जरूरी जानकारी उपलब्ध कराती हैं। हालांकि, कॉन्टेंट से ज्यादा सर्च रिजल्ट SEO पर भी निर्भर करता है। इन सब में दुख की यब भी बात है कि स्कैमर्स धीरे-धीरे SEO में मजबूत होते जा रहे हैं। ऐसे में आज के इस लेख में हम आपको 8 ऐसी बातें बता रहे हैं जिन्हें Google पर सर्च करते समय आपको सावधान रहने की जरुरत है।
1. जब भी आप किसी कस्टमर केयर का नंबर Google से ढूंढ रहे हों तो आपको बेहद सावधान रहने की जरुरत है। यह एक लोकप्रिय ऑनलाइन स्कैम है। कई बार फ्रॉडस्टर्स फेक बिजनेस लिस्टिंग्स और कस्टमर केयर नंबर्स को पोस्ट करते हैं और लोग उन्हें ओरिजनल कस्टमर केयर नंबर्स समझकर उन पर कॉल करते हैं और स्कैम के शिकार हो जाते हैं। ऐसे में आगर आपको भी किसी कंपनी का कस्टमर केयर नंबर चाहिए तो आपको उसकी आधिकारिक वेबसाइट या ऐप पर जाकर कॉन्टैक्ट डिटेल्स से यह जानकारी मिल सकती है।
2. जब भी किसी वेबसाइट को ओपन करें तो उसके URL को जरूर चेक करें। खासतौर से किसी ऑनलाइन बैंकिंग वेबसाइट को सर्च करते समय। यह सलाह दी जाती है कि जब तक कि आपको सटीक आधिकारिक URL नहीं पता हो तब तक यूजर्स को इन्हें सर्च नहीं करना चाहिए। क्योंकि कई बार स्कैमसटर्स फेक बैंकिंग वेबसाइट्स बनाते हैं और उन पर गलत लॉगइन डिटेल्स लिस्ट करते हैं। ऐसे में सिक्योर रहने के लिए अपने बैंक के ऑनलाइन बैंकिंग पोर्टल का आधिकारिक URL दर्ज करें।
3. Google पर किसी भी ऐप या सॉफ्टेवयर को सर्च न करें। इन्हें सर्च करने से बचना चाहिए। अगर आपको कोई ऐप या सॉफ्टवेयर डाउनलोड करना ही है तो उसे उसकी आधिकारिक वेबसाइट से ही डाउनलोड करें। ऐप्स को तो आप एंड्रॉइड पर Google Play औप आईफोन्स पर App Store से भी डाउनलोड कर सकते हैं। क्योंकि Google पर कई मालवेयर से प्रभावित सॉफ्टवेयर्स और ऐप्स मौजूद हैं जो यूजर्स के लिए खतरनाक साबित हो सकते हैं।
4. Google पर किसी दवाई या मेडिकल सिम्टम को सर्च करने से पहले अपने डॉक्टर से कंसल्ट जरूर करें। अगर आप बीमार हैं तो आप डॉक्टर के पास जाएं क्योंकि Google, दवाई या हेल्थ एडवाइस की जगह नहीं है। साथ ही यह भी सलाह दी जाती है कि जब आप बीमार हों तो डॉक्टर के पास जाना स्किप न करें और Google के सर्च रिजल्ट पर भरोसा करें। साथ ही Google पर मिली जानकारी के आधार पर दवाएं खरीदना खतरनाक साबित हो सकता है।
5. Google पर मौजूद मेडिकल, न्यूट्रिशन या वेट लॉस टिप्स पर पूरी तरह से भरोसा न करें। हर ह्यूमन बॉडी अलग होती है और यह अलग तरह के कार्य करती है। इसलिए, Google से वजन घटाने या अन्य पोषण टिप्स के बारे में सलाह न लें। अगर आप अपने आहार को बदलना चाहते हैं तो एक आहार विशेषज्ञ से मिलें। अगर आपको अपना वजन कम करना है तो पहले किसी डॉक्टर से सलाह लें।
6. Google पर किसी पर्सनल फाइनेंस, स्टॉक मार्केट टिप्स पर विश्वास न करें। ठीक हेल्थ की ही तरह पर्सनल फाइनेंस भी हर व्यक्ति के लिए अलग भी होता है। कभी-भी किसी ऑनलाइन दी गई निवेश योजना पर विश्वास न करें। Google सर्च रिजल्ट की सलाह लेने से बचें।
7. Google पर सरकारी वेबसाइट्स को सर्च कर रहे हैं तो उनके URL को सत्यापित करें। बैंकिंग वेबसाइट्स की तरह, सरकारी वेबसाइट जैसे नगरपालिका कर, अस्पताल आदि स्कैमर्स के मुख्य टारगेट होते हैं। इनकी पहचान करना बेहद मुश्किल होता है। Google पर सर्च के बजाय किसी सरकारी वेबसाइट पर सीधे जाने का विकल्प चुनें।
8. Google पर कूपन, ई-कॉमर्स वेबसाइटों के ऑफर देखने से बचें। ऑनलाइन ई-कॉमर्स वेबसाइट्स पर तथाकथित ऑफर के फेक पेजेज की बाढ़ सी आ गई है। स्कैम्सटर्स ने इसे भी स्कैम के तौर पर इस्तेमाल करना शुरू कर दिया है। इसमें लोगों को फंसाकर वो उनकी ऑनलाइन बैंकिंग लॉगिन डिटेल्स चोरी करते हैं। स्कैम्सटर्स लोगों को आकर्षक कूपन्स का लालच देते हैं।

 

शेयर करें

मुख्य समाचार

अब अनुब्रत मंडल आये आयकर के निशाने पर, अगले सप्ताह बुलाये गये

करोड़ों की बेनामी संपत्ति का आरोप कोलकाता : आयकर विभाग ने ​अगले सप्ताह तृणमूल नेता अणुव्रत मंडल को बेनामी संपत्तियों से संबंधित मामलों में नोटिस भेजी आगे पढ़ें »

vote

जंगीपुर व शमशेरगंज में मतदान तिथि बदली, अब 16 मई को मतदान

सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता : चुनाव आयोग ने जंगीपुर व शमशेरगंज में 13 मई को होने वाले मतदान की तिथि बदल दी है। अब यहां 16 मई आगे पढ़ें »

ऊपर