नहीं मानी पति की बात तो पत्नी के पेट और हाथ पर दागीं गर्म सलाखें

गुना : मध्य प्रदेश के गुना में एक पति ने पत्नी के साथ हैवानियत की सारी हदें पर कर दीं। पति ने अपनी पत्नी के पेट और हाथ पर गर्म सलाखें दाग दीं। करीब 2 घंटे चले इस हैवानियत के खेल में पीड़िता ने घर से भागकर बड़ी मुश्किल से अपनी जान बचाई। पांच घंटे जंगल में भागते- भागते पीड़िता जब अपने मायके पहुंची वहां पर उसका इलाज हो सका। मायके पहुंचकर पीड़िता अपने परिजनों को सारी बाद बताई फिर सिरसी थाने पहुंचकर आरोपी पति के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराई हैदरअसल यह पूरा मामला एक व्यक्ति को झूठे मुकदमे में फंसाने से जुड़ा हुआ है। महिला का पति खिलन सिंह सहरिया चाहता था कि उसकी पत्नी सुनील शिकारी नाम के एक युवक पर बलात्कार का झूठा मुकदमा दर्ज करवाए। बलात्कार के आरोप में फंसाने के बाद आरोपी को SC- ST एक्ट में मिलने वाली क्षतिपूर्ति राशि प्राप्त हो जाएगी। उन पैसों से वो शराब पी सकेगा। महिला ने जब अपने पति यह बात नहीं मानी तो शराबी पति ने महिला को खींचकर जमीन पर पटक दिया और उसकी छाती पर दोनों पैर रखकर खड़ा हो गया। उसने अपनी पत्नी के साथ जानवरों जैसे सलूक किया और 2 घंटे तक गर्म सलाखों से पेट और हाथों को जलाया। पीड़ित महिला ने अपने पति से जान बचाकर किसी तरह से घर से भागी और जंगल के रास्ते अपने मायके पहुंच गई और अपने परिजनों और पुलिस को अपनी आपबीती बताई। इस मामले में एएसपी टीएस बघेल ने बताया कि किसी शख्स पर झूटी रिपोर्ट दर्ज कराने के लिए जब पत्नी ने मना किया तो उसके शराबी पति ने महिला से बदसलूकी की और मारा पीटा और गर्म सरिये से जलाया भी। महिला का इलाज करा दिया गया है फिलहाल वो अपने मायके में रह रही है और आरोपी की तलाश की जा रही है। महिला की शिकायत पर आरोपी पति के खिलाफ विभिन्न धाराओं में FIR दर्ज की गई है। 

शेयर करें

मुख्य समाचार

कालीघाट मंदिर में युवती से जबरन शादी करने की कोशिश, अभियुक्त गिरफ्तार

विरोध करने पर युवती से मारपीट कर तोड़ा मोबाइल सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता : कालीघाट मंदिर में एक युवती को ले जाकर उससे जबरन शादी करने की कोशिश आगे पढ़ें »

सॉल्टलेक के दत्ताबाद मैं भाजपा कार्यकर्ताओं ने जमकर किया तोड़फोड़

सन्मार्ग संवाददाता विधाननगर : राज्य में पांचवें चरण के मतदान संपन्न होने के बाद भी विभिन्न विधानसभा केन्द्र में चुनावी हिंसा जारी है। ताजा घटना विधाननगर आगे पढ़ें »

कारोना विस्फोट पर ममता ने मांगा प्रधानमंत्री से इस्तीफा

जिन राज्यों में चुनाव नहीं, वहां कोरोना के मामले अधिक : शाह

कोरोना संकट के बीच रेलवे ने कसी कमर, चलाई जाएंगी ‘ऑक्सीजन एक्सप्रेस’ ट्रेनें

कितने दिनों में कोविड मरीज ठीक होते हैं या हालत हो जाती है खराब, 14 दिन की लिमिट का क्या है मतलब

बटन इतना ज़ोर से दबाना कि बटन यहां दबे और करंट दीदी को कोलकाता में लगे – अमित शाह

मरीज तड़पता रहा, भर्ती कराने गए परिजनों को डॉक्टर कैमरे के सामने ही पीटते रहे

अमृता सिंह के साथ अपने रिश्ते को लेकर करीना ने खोला बड़ा राज, कहा – मैं उनसे कभी नहीं………..

घर में सो रहा था शख्स, सिर काट कर साथ ले गया कातिल

ऊपर