उत्तराखंड में बाढ़-बारिश से हुई तबाही का गृहमंत्री आज करेंगे हवाई सर्वेक्षण, अब तक 52 लोगों की मौत

नई दिल्ली : उत्तराखंड में भारी बारिश से हालात काफी बिगड़ चुके हैं। मूसलाधार हो रही बारिश के कारण कई इलाकों में भूस्खलन की खबरों के साथ ही अब तक 52 लोगों की मौत हो चुकी है। वहीं केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह उत्तराखंड में हुई बारिश से तबाही का जायजा लेने के लिए बुधवार देर शाम देहरादून एयरपोर्ट पहुंचे। इस दौरान एयरपोर्ट पर मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी भी मौजूद रहे। बता दें कि उत्तराखंड में मानसून की वापसी के साथ हो रही मुसलाधार बारिश के कारण हुए नुकसान पर शाह समीक्षा बैठकें करेंगे और स्थिति का जायजा लेंगे और राज्य में भारी बारिश के बाद हवाई सर्वेक्षण करेंगे।

बाढ़-बारिश से 52 की गई जान

भारी बारिश से प्रभावित उत्तराखंड में बुधवार को छह और शव बरामद किए गए, जिससे राज्य में मरने वालों की संख्या बढ़कर 52 हो गई। बारिश के चलते हुए भूस्खलन से अनेक सड़कें अवरुद्ध हो गई हैं और अनेक गांवों में बिजली आपूर्ति भी ठप हो गई है। आधिकारिक आंकड़ों के अनुसार नष्ट मकानों के मलबे से आज छह और शव मिले। पांच लोग अब भी लापता हैं तथा बारिश से जुड़ी घटनाओं में 17 लोग घायल हुए हैं। एक आधिकारिक बयान के अनुसार ज्यादातर लोगों की मौत मकानों के गिरने के कारण हुईं। नैनीताल जिले में ही 28 लोगों की मौत हुई है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

ममता की बैठक की 10 महत्वपूर्ण बातें

मुंबई: 'प्रधानमंत्री कौन बनेगा यह बड़ा मुद्दा नहीं है। वर्तमान समय में सबसे बड़ी बात यह है कि लोकतंत्र की रक्षा कैसे करें'। मुख्यमंत्री ममता आगे पढ़ें »

ऊपर