होली में घर जाने के लिए ट्रेन में नहीं मिल रहा है बर्थ? ऐसे बुक करें कन्फर्म तत्काल टिकट

नई दिल्ली : होली में कई लोग घर जाना चाहते हैं लेकिन ट्रेन में टिकट ना मिलने से उन्हें काफी दिक्कत होती है। भारतीय रेल लोगों को तत्काल टिकट बुक करने का भी ऑप्शन देता है। लेकिन, इसमें लिमिटेड सीट्स होने की वजह से कई बार सीट कन्फर्म नहीं हो पाती है।  आप कन्फर्म तत्काल टिकट बुक कर सकते हैं। इसके लिए आपको कुछ सिंपल टिप्स फॉलो करने होंगे जिससे आसानी से आपको कन्फर्म सीट मिल जाएगी। तत्काल टिकट बुक में केवल इस बात का ध्यान रखना होता है कि आप कितनी जल्दी टिकट को बुक कर पाते हैं।

कन्फर्म तत्काल टिकट से मिलेगी मदद

इसके लिए आप IRCTC के नए ऐप  की मदद ले सकते हैं। कन्फर्म टिकट ऐप से पैसेंजर्स किसी स्पेसिफिक रूट में चलने वाली कई ट्रेनों में एकसाथ सीट की उपलब्धता देख सकते हैं। इसके लिए पैसेंजर्स को ट्रेन नंबर डाल कर डिटेल लेने की जरूरत नहीं होगी। इस ऐप को एंड्रॉयड यूजर्स Google Play Store से डाउनलोड कर सकते हैं। कन्फर्म टिकट ऐप पर आप लॉगिन करके अपनी पर्सनल डिटेल्स को सेव करके रख सकते हैं। इससे आपको ये जानकारी टिकट बुक करते समय नहीं देनी होगी और आपका काफी समय बचेगा। पेंमेंट करने के बाद आपकी सीट कन्फर्म हो जाएगी। हालांकि, अगर आप बुकिंग करते समय लेट करते हैं तो सीट कन्फर्म नहीं भी हो सकती है।
IRCTC मोबाइल ऐप भी आएगा काम

एक और तरीका है जिससे तत्काल टिकट को बुक किया जा सकता है। आप IRCTC मोबाइल ऐप में मास्टर लिस्ट बनाकर उनसभी पैसेंजर्स की डिटेल्स सेव करके रख सकते हैं जिनका टिकट आपका बुक करना है। इसके बाद ऐप में तत्काल टिकट बुकिंग के समय से 1 या 2 मिनट पहले लॉगिन कर लें। जैसे ही तत्काल टिकट बुकिंग शुरू होगी आपको ट्रेन सेलेक्ट करके तत्काल कोटा सेलेक्ट करके क्लास सेलेक्ट करना होगा। इसके बाद आपको पैसेंजर्स डिटेल्स डालना होता है। यहां पर आप अपना समय मास्टर लिस्ट से पैसेंजर को सेलेक्ट करके बचा सकते हैं। इसके बाद यूपीई के जरिए पेमेंट करें ताकि पेमेंट में भी कम समय लगे और तत्काल टिकट तुरंत बुक हो जाए। इससे आपको कन्फर्म तत्काल टिकट मिलने के चांस काफी बढ़ जाते हैं।

शेयर करें

मुख्य समाचार

अब दूसरे मामले में नौशाद सिद्दीकी को 6 दिनों की पुलिस हिरासत

पंचायत चुनाव तक मुझे जेल में रखना चाहती है तृणमूल - नौशाद सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता : भांगड़ से आईएसएफ विधायक नौशाद सिद्दीकी को शुक्रवार को 6 दिनों आगे पढ़ें »

शुभेंदु के बाद दिलीप और मिठुन ने भी कहा, ‘अल्पसंख्यक विरोधी नहीं है भाजपा’

सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता : राज्य में पंचायत चुनाव होने वाले हैं और अगले साल लोकसभा चुनाव भी है। ऐसे में भाजपा अभी से खुद को आगे पढ़ें »

ऊपर