दूसरे दिन भी बंद रहीं वैष्‍णो देवी मंदिर के लिए हेलीकॉप्टर और रोपवे सेवाएं

जम्मू : उत्तर भारत के पहाड़ी इलाकों में इन दिनों हो रही बर्फबारी का पर्यटक खूब आनंद ले रहे हैं। इसी बर्फबारी और खराब मौसम के चलते लगातार दूसरे दिन शनिवार को जम्मू कश्मीर के रियासी जिले में स्थित माता वैष्णो देवी मंदिर के लिए हेलीकॉप्टर एवं रोपवे सेवाएं बाधित रहीं। यह जानकारी माता वैष्णो देवी श्राइन बोर्ड के मुख्य कार्यकारी अधिकारी रमेश कुमार ने शनिवार को दी। साथ ही उन्होंने बताया कि इलाके में भारी बर्फबारी के बावजूद श्रद्धालु तीर्थयात्रा के लिए आ रहे हैं। प्रशासन द्वारा उनकी सुविधाओं का सारा जरूरी इंतजाम किया जा रहा है। बता दें कि हर साल देशभर से लोग त्रिकुटा पर्वत पर स्थित माता वैष्‍णों देवी के दर्शन के लिए आते हैं। इस साल बर्फबारी के बाद भी मंदिर में श्रद्धालुओं के आने का सिलसिला जारी है।

एक फुट से ज्यादा गिरी बर्फ

इस मंदिर के आस पास के क्षेत्रों में गुरूवार और शुक्रवार को हुई भारी बर्फबारी के कारण मंदिर जाने वाली हेलीकॉप्टर और रोपवे सेवाएं बंद कर दी गईं। मंदिर के भवन, भैरोघाटी, सांझीछत एवं हिमकोटि समेत आसपास के इलाकों में एक फुट से ज्यादा मोटी बर्फ गिरी है।

मुख्य कार्यकारी अधिकारी ने कहा कि, ‘‘मंदिर का रास्ता साफ है और तीर्थयात्रा भी सामान्य रूप से जारी है। केवल हेलीकॉप्टर और रोपवे सेवाओं को निलंब‌ित किया गया है।’’ उन्होंने कहा कि मौसम की स्थिति सुधरने के साथ ही इन सेवाओं को फिर से शुरू कर दिया जाएगा। श्राइन बोर्ड की ओर से श्रद्धालुओं के लिए सभी जरूरी बंदोबस्त किए जा रहे हैं।

कदम बढ़ा चुके हैं आठ हजार भक्त

उल्लेखनीय है कि खराब मौसम और बर्फबारी के बीच शुक्रवार को करीब साढे आठ हजार श्रद्धालु माता के मंदिर में दर्शन के लिए पहुंचे। वहीं, वैष्‍णो देवी के दर्शन की कामना करते हुए शनिवार को करीब आठ हजार श्रद्धालु कटरा स्थित आधार शिविर से गुफा मंदिर की ओर अपने कदम बढ़ा चुके हैं।

शेयर करें

मुख्य समाचार

बंगाल में कोरोना वायरस संक्रमण के 2752 नये आये मामले

कोलकाता : वेस्ट बंगाल कोविड-19 हेल्थ बुलेटिन के अनुसार पश्चिम बंगाल में कोरोना वायरस संक्रमण के पिछले 24 घंटे में 2752 नये मामले आये है आगे पढ़ें »

राममंदिर के शिलान्यास के अवसर पर अपने घरों में दीपावाली मनाएं : रावत

देहरादून : उत्तराखंड के मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने पांच अगस्त को अयोध्या में राममंदिर निर्माण हेतु भूमिपूजन के अवसर पर प्रदेश की जनता से आगे पढ़ें »

ऊपर