राजधानी में हेल्‍थ इमरजेंसी घोषित,5 नवंबर तक बंद रहेगें स्कूल

Delhi pollution

नई दिल्ली : दिल्ली और एनसीआर में बढ़ती प्रदुषण और पराली जलने की वजह से मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने सभी स्कूलों को 5 नवंबर तक बंद रखने का आदेश दिया है। सर्वोच्च न्यायलय ने दिल्ली में प्रदुषण की खराब स्थिति को देखते हुए दिल्ली और एनसीआर इलाकों में हेल्‍थ इमेरजेंसी का ऐलान कर दिया है। दक्षिणी दिल्ली नगर निगम ने भी जहरीली हवा के कारण विद्यालयों को बंद रखने का निर्देश दिया है। देश की राजधानी में प्रदुषण ने सब की नाक में दम कर रखा है और एनसीआर के शहरों गुरुग्राम, फरीदाबाद, नोएडा, गाजियाबाद और सोनीपत की वायु गुणवत्ता सूचकांक लगातार खतरनाक होती जा रही है। मालूम हो कि दिवाली के अगले दिन ही दिल्ली में देर रात तक पटाखे जलने के बाद प्रदुषण की हालात बेकाबू हो गई थी। वायु गुणवत्ता का स्तर 500 पार जा चुका है जिसे काफी खतरनाक की श्रेणी में माना जाता है।

ईसीपीए ने मुख्य सचिवों को लिखा खत

पर्यावरण प्रदूषण नियंत्रण प्राधिकरण (ईपीसीए) ने दिल्ली में प्रदुषण की स्थिति को गंभीर बताते हुए ठंड के मौसम में भी पटाखें नहीं जलाने का आदेश दिया है। ईपीसीए के अनुसार वायु प्रदुषण की स्थिति बेहद खराब है और इसका सबसे ज्यादा असर बच्चों पर पड़ रहा है। इसी बीच ईसीपीए प्रेसीडेंट भूरेलाल ने दिल्ली,हरियाणा और उत्तर प्रदेश के मुख्य सचिवों को पत्र लिखते हुए कहा कि प्रदुषण की खराब हालत को देखते हुए सरकार ने 5 नवंबर तक सारे स्कूलों को बंद रखने का निर्णय लिया है। मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने भी पराली पर रोक लगाने का आग्रह किया है। इस संबंध में उन्होंने हरियाणा और पंजाब के मुख्यमंत्रियों को खत लिखा है। केजरीवाल ने कहा है कि दिल्ली गैस चैंबर बन चुकी है।

केजरीवाल ने किया अपील

सर गंगाराम अस्पताल के रेसपिरेटरी विभाग के प्रमुख डॉ. अरविंद कुमार से मिली जानकारी के अनुसार इस वक्त दिल्ली में कोई भी व्यक्ति पूरी तरह स्वस्‍थ नहीं। पूर्ण रुप से स्वस्‍थ होने का दावा कोई नहीं कर सकता। यह हमारी सबसे बड़ी हार है। केजरीवाल ने ट्वीट करते हुए कहा कि आसपास के इलाकों में पराली जलने से दिल्ली की हालत गैस चैंबर जैसी हो गई है। हमने सारे स्कूलों में 50 लाख से भी ज्यादा मास्क बांटे हैं। मेरी आप सभी से अपील है कि प्रदुषण से बचने के लिए इस मास्क का उपयोग करें। पंजाब और हरियाणा की सरकार पर तंज कसते हुए उन्होंने कहा है कि इन दोनों राज्यों की सरकार किसानों को पराली जलाने के लिए विवश कर रही है जिस वजह से दिल्ली में प्रदुषण की स्थिति खराब होती जा रही है। लोगों ने प्रदुषण पर अपना आक्रोश जाहिर करते हुए दिल्ली में पंजाब और हरियाणा भवन के बाहर विरोध-प्रदर्शन किया था।

शेयर करें

मुख्य समाचार

टी20 विश्व कप 2021 के लिये श्रीलंका और यूएई होंगे भारत के बैकअप

नयी दिल्ली : भारत अगर अगले साल टी20 विश्व कप की मेजबानी नहीं कर पाता है तो अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद ने श्रीलंका और संयुक्त अरब आगे पढ़ें »

छह खिलाड़ियों के पॉजिटिव होने के बावजूद 19 से शुरू होगा राष्ट्रीय हॉकी शिविर

नयी दिल्ली : पुरूष हॉकी टीम के कप्तान मनप्रीत सिंह सहित छह खिलाड़ियों के कोविड-19 जांच में पॉजिटिव होने से अस्पताल में भर्ती होने के आगे पढ़ें »

ऊपर