हाथरस गैंगरेप: ‘अलीगढ़ अस्पताल की रिपोर्ट में बलात्कार की पुष्टि नहीं’

Gang rape gangrape expose women going to temple

हाथरस: चार उच्च जाति के पुरुषों द्वारा मारपीट और कथित तौर पर गैंगरेप की शिकार हुई हाथरस दलित महिला की अलीगढ़ अस्पताल की मेडिकल रिपोर्ट में बलात्कार की पुष्टि नहीं हुई, पुलिस अधीक्षक (एसपी) विक्रांत वीर ने गुरुवार को कहा।

‘अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी मेडिकल कॉलेज की मेडिकल रिपोर्ट में उल्लेख किया गया है कि चोटें आई थीं लेकिन यह जबरन संभोग की पुष्टि नहीं करता है। वे फोरेंसिक की रिपोर्ट की प्रतीक्षा कर रहे हैं। अब तक, डॉक्टरों का कहना है कि वे बलात्कार की पुष्टि नहीं कर रहे हैं।’

मंगलवार को दिल्ली के सफदरजंग अस्पताल में 19 वर्षीय महिला की मौत से पहले अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी मेडिकल कॉलेज में उसका इलाज चल रहा था। एसपी ने कहा कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ द्वारा गठित विशेष जांच दल (एसआईटी) ने बुधवार को गांव का दौरा किया और पीड़ित परिवार से मुलाकात की। हाथरस के एसपी ने कहा, ‘तीन सदस्यीय टीम ने अपराध स्थल का निरीक्षण किया है और जांच जारी है।’

हाथरस जिले में सीआरपीसी की धारा 144 लागू
हाथरस के जिला मजिस्ट्रेट पी लश्कर ने कहा कि एसआईटी गुरुवार को पीड़ित परिवार के सदस्यों से मिलने के लिए गई थी। उन्होंने कहा कि हाथरस की सीमाओं को सील कर दिया गया है और जिले में सीआरपीसी की धारा 144 लागू कर दी गई है। हाथरस में पांच से अधिक लोगों को इकट्ठा होने की अनुमति नहीं है, यहां तक ​​कि मीडिया को भी अनुमति नहीं है।

योगी ने जांच के हेतु गठन किया एसआईटी टीम का
इस बीच, उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री आदित्यनाथ ने वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए पीड़िता के परिवार से भी बात की और सरकार की तरफ से बुधवार को घोषणा की गई कि पीड़िता के परिजनों के सदस्यों में से एक के लिए 25 लाख रुपये, एक घर और सरकारी नौकरी के रूप में दिए जाएंगे। सरकार ने कहा है कि इस मामले की सुनवाई फास्ट ट्रैक कोर्ट में की जाएगी।

पीड़िता के शव का जल्दबाजी में अंतिम संस्कार कर ​​दिया गया

पीड़िता के परिवार की अनुमति के बगैर उसके शव का रात दो बजे अंतिम संस्कार कर दिया गया जिसके बाद मृतका को न्याय दिलाने की मांग तेज हो गई है। ‘दोषियों को ऐसी सजा मिलनी चाहिए कि भविष्य में दोबारा कोई ऐसा कृत्य करने की हिम्मत न कर सके,’ स्थानीय लोगों ने कहा।

सियासत हुई तेज

गांधी वाड्रा की यूपी के हाथरस गैंगरेप मामले में सियासत तेज हो गई है। सभी विरोधी दल इस मुद्दे पर योगी सरकार पर फंदा कसते हुए नजर आ रहे हैं। इस मामले को लेकर कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी और कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी आज हाथरस जाएंगी और पीड़ित के परिवार से मुलाकात करेंगे। राहुल ने ट्वीट कर कहा था, ‘भाजपा का नारा ‘बेटी बचाओ’ नहीं, ‘तथ्य छुपाओ, सत्ता बचाओ’ है।

अर्विंद केजरीवाल ने भी योगी सरकार पर निशाना साधते हुए कहा:

अखिलेश यादव ने कहा:

शेयर करें

मुख्य समाचार

कोरोना काल में देश के नाम 7वां संबोधन, जानें पीएम के भाषण की बड़ी बातें

नई दिल्ली : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मंगलवार को देश के नाम संदेश दिया। कोरोना काल में ये उनका 7वां संबोधन था। पीएम मोदी ने आगे पढ़ें »

मंदिर की चौखट पर युवक की गला रेतकर हत्या

मिर्जापुर : यूपी के मिर्जापुर में एक मंदिर की चौखट पर एक युवक की गला रेतकर हत्या कर दी गई। मृतक का नाम मुन्ना पासी आगे पढ़ें »

ऊपर