गुजरात : पथरी निकलवाने गए मरीज की डॉक्टर ने किडनी निकाल दी

अहमदाबाद : गुजरात में एक मरीज गुर्दे की पथरी निकलवाने के लिए अस्पताल में भर्ती हुआ था, लेकिन डॉक्टर ने उस मरीज की किडनी ही निकाल ली। जरूरी अंग निकाले जाने के 4 महीने बाद मरीज की मृत्यु भी हो गई। अब गुजरात उपभोक्ता विवाद निवारण आयोग ने बालासिनोर के केएमजी अस्पताल को आदेश दिया है कि वह मरीज के परिवारजनों को 11.23 लाख रुपये का मुआवजा दे। उपभोक्ता अदालत ने प्रत्यक्ष या अप्रत्यक्ष रूप से डॉक्टर की इस लापरवाही में अस्पताल को भी जिम्मेदार माना है। अदालत ने माना कि अस्पताल न सिर्फ अपने कार्यों और चूक के लिए जिम्मेदार है, बल्कि उसके कर्मचारियों की लापरवाही के लिए भी जिम्मेदार है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

घंटों मशक्कत के बाद कैद हुआ बाघ

दक्षिण 24 परगना : वन विभाग के कर्मियों ने काफी घंटों की मशक्कत के बाद धान के खेत से रॉयल बंगाल टाइगर को पिंजरे में आगे पढ़ें »

ऊपर