‘पीछे से जबरन पकड़ लिया’, अब जेएनयू में…

नई दिल्ली: ऑल इंडिया स्टूडेंट्स एसोसिएशन (आईसा) के एक कार्यकर्ता पर जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय परिसर में एक महिला का यौन उत्पीड़न करने का आरोप लगाया गया है। एक बयान में शनिवार को यह जानकारी दी गई। ‘कंसर्न्ड विमेन ऑफ जेएनयू’ ने एक बयान में कहा कि आरोपी ने पीड़िता को उसकी मर्जी के बिना अनुचित रूप से छूआ और पीछे से उसे जबरन पकड़ लिया। पीड़िता को उसके सहपाठियों के माध्यम से उसे बदनाम करने और उसकी विश्वसनीयता को नुकसान पहुंचाने की साजिशों के बारे में भी बताया जा रहा है। बयान में घटना की तारीख का जिक्र नहीं है। इस बीच, आईसा ने कहा कि शिकायत की जांच को उस समिति के पास भेजा गया है जो यौन उत्पीड़न मामले के खिलाफ कार्रवाई की सिफारिश करती है। आरोपी कार्यकर्ता को संगठन की गतिविधियों में भाग न लेने को कहा गया है। जेएनयू आईसीसी की पीठासीन अधिकारी पूनम कुमारी से संपर्क करने पर उन्होंने घटना के बारे में कोई भी जानकारी देने से इनकार कर दिया। जेएनयू के ‘डीन ऑफ स्टूडेंट्स वेलफेयर’ सुधीर प्रताप सिंह ने भी कहा कि उन्हें ऐसी किसी घटना की जानकारी नहीं है। वहीं, जेएनयू आइसा की सचिव मधुरिमा कुंडु ने कहा कि उन्होंने शिकायतकर्ता को एक संदेश भेजा है और उसे न्याय दिलाने का आश्वासन दिया है।

 

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

दुर्गापूजा से पहले नये कलेवर में सजेगा बंगाल का होम स्टे

 नजर होम स्टे पर 80% होम स्टे उत्तर बंगाल में हैं, 20% दक्षिण बंगाल में इन जगहों पर हैं होम स्टे कलिम्पोंग दार्जिलिंग कर्सियांग जलपाईगुड़ी अलीपुरदुआर का डुआर्स बांकुड़ा पुरुलिया हुगली बंगाल में होम स्टे की आगे पढ़ें »

ऊपर