लड़की ने ऑर्डर किया था खाना, डिलीवरी वाले ने भेजा बड़ा ही प्यारा मैसेज और…

नई दिल्लीः जब भूख लगी होती है तो इंसान जल्दी जल्दी खाना ऑर्डर करता है। पहली उम्मीद जब जागती है जब फोन पर देखा जाता है कि भाई डिलीवरी वाले भैया निकल गए खाना लेकर। दूसरी उम्मीद तो घर का दरवाजा खड़कता है तभी जागती है कि लो आ गया खाना। 21 वर्षीय इली इली इल्यास लंदन में रहती हैं। उन्होंने खाना ऑर्डर किया था। वो इंतजार कर रही थी। थोड़ी देर बाद डिलीवरी वाले ने जो मैसेज किया वो बड़ा ही प्यारा था।
क्या लिखा डिलीवरी वाले ने?
डिलीवरी वाले ने उन्हें खाना तो नहीं दिया बल्कि एक मैसेज लिखा। उस मैसेज पर लिखा था- ‘साॅरी लव, मैं तुम्हारा खाना खा गया।’ इली एक लॉ स्टूडेंट हैं। उन्होंने 20 डॉलर( 1456 रुपये में) दो बर्गर, चिप्स और चिकन रैप ऑर्डर किया था। जब उन्होंने ऑर्डर किया तब तो डिलीवरी वाले की लोकेशन दिखा रहा था कि वो रास्ते से उनकी लोकेशन की ओर आ रहा है। वो उम्मीद कर रही थी कि जल्दी ही उनकी डोरबेल बजाएगा और खाना होगा उनके हाथ में लेकिन आया तो एक मैसेज जिसपर लिखा था- सारी लव, मैं तुम्हारा खाना खा गया।
फिर क्या हुआ?
उन्होंने ऐप खोला तो देखा कि खाना उन तक डिलीवर दिखा रहा है। जबकि खाना तो उनतक पहुंचा ही नहीं। इसके बाद उन्होंने कस्टमर केयर से शिकायत की। बाद में उन्हें खाना फ्री में डिलीवर करवाया गया। वो कहती हैं, ‘क्या पता उसे भूख लगी हो, मैं नहीं चाहती कि इस कोरोना काल में मेरे कारण किसी की नौकरी जाए।’
कई लोग तो गुस्सा हो जाते हैं
वैसे ऐसे मौके पर कई लोग तो गुस्सा हो जाते हैं वहीं इली को गुस्सा नहीं आया। वो कहती हैं, ‘मुझे ये सब काफी फनी लगा। मुझे ये तो पता था कि खाना किसी ने खाया ही है। मेरे साथ तो ऐसा कभी नहीं हुआ।’ तो उस्ताद… कभी आपके साथ भी ऐसा हो तो गुस्सा मत होना। खाना तो खाने के लिए ही होता है। बाकी आपका जो मन करे वो करना। बस गुस्सा मत होना।

 

शेयर करें

मुख्य समाचार

सबकी निगाहें आज तृणमूल और गठबंधन के प्रत्याशियों पर

रविवार को भाजपा खोलेगी पत्ते कोलकाता : चुनाव की घोषणा के बाद अब लोग प्रत्याशियों की घोषणा का इंतजार कर रहे हैं। सूत्रों ने बताया कि आगे पढ़ें »

लाख टके का सवाल : कौन होगा भाजपा के सीएम का चेहरा

कोलकाता : विधानसभा चुनाव की घोषणा के साथ ही राजनीतिक पार्टियों ने जोरदार तैयारियां चालू कर दी हैं। बीजेपी ने राज्य में अपनी पूरी ताकत आगे पढ़ें »

ऊपर