शस्त्र पूजा कर बोले रक्षा मंत्री- किसी को एक इंच जमीन भी नहीं लेने देगी भारतीय सेना

नयी दिल्ली : रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने रविवार सुबह दशहरे के मौके पर जवानों का मनोबल बढ़ाने के लिए पश्चिम बंगाल के दार्जिलिंग के सुकना युद्ध स्मारक में शस्त्र पूजा की। इस मौके पर सेना प्रमुख जनरल मनोज मुकुंद नरवाने भी उपस्थित थे। इस दौरान रक्षामंत्री सिंग ने कहा, ‘भारत-चीन की सीमा पर जो तनाव चल रहा है, भारत ये चाहता है कि तनाव खत्म हो। शांति स्थापित हो है लेकिन कभी-कभी नापाक हरकत होती रहती है। मैं पूरी तरह से आश्वस्त हूं कि हमारे सेना के जवान किसी भी सूरत में अपने भारत की एक इंच भी जमीन किसी दूसरे के हाथों में जाने नहीं देंगे’। साथ ही उन्होंने सिक्किम में सीमा सड़क संगठन (बीआरओ) की ओर से बनाए गए एक एक्सल सड़क का ई-उद्घाटन भी किया। मालूम हो कि पिछले साल भी रक्षा मंत्री ने दशहरे के मौके पर इसी तरह का शस्त्र पूजन किया था। शास्त्र पूजा दशहरे के समय के आसपास हिंदुओं द्वारा प्रतिवर्ष किया जाने वाला एक अनुष्ठान है।
राजनाथ ने सुकना युद्ध स्मारक पर अर्पित श्रद्धांजलि की
रक्षामंत्री रविवार सुबह दार्जिलिंग के सुकना युद्ध स्मारक पर पहुंचे। यहां सबसे पहले उन्होंने सुकना युद्ध स्मारक पर श्रद्धांजलि अर्पित की और वीर जवानों को याद किया। साथ ही उन्होंने अपने ट्वीट में कहा कि ‘सभी देशवासियों को विजयदशमी पर्व की हार्दिक शुभकामनाएं। आज के इस पावन अवसर पर मैं सिक्किम के नाथूला क्षेत्र में जाकर भारतीय सेना के जवानों से भेंट करूंगा और शस्त्र पूजन समारोह में भी मौजूद रहूंगा।’
अपने सैनिकों के कारण देश की सीमाएं सुरक्षित हैं
राजनाथ सिंह सीमा पर पीपुल्स लिबरेशन आर्मी (पीएलए) के खिलाफ तैनात भारतीय सैनिकों के मनोबल को बढ़ाने के लिए सिक्किम का दौरा कर रहे हैं। वह सीमाओं पर सैनिकों की तैनाती की समीक्षा करेंगे और पीएलए के खिलाफ उनकी तैयारियों का आकलन करेंगे। रक्षा मंत्री ने शनिवार को दार्जिलिंग के सुकना में 33 कोर के मुख्यालय का दौरा किया जहां उन्होंने कहा कि अपने सैनिकों के कारण देश की सीमाएं सुरक्षित हैं। बता दें कि पिछले साल यह पूजा फ्रांस में हुई थी। जब राफेल फाइटर जेट इंडिया को औपचारिक रूप से प्राप्त किया गया था। उन्होंने तिलक से विमान पर ओम बनाया और नारियल और फूल चढ़ाए। इसके अलावा उन्होंने विमान में 35 मिनट की यात्रा भी की थी।

शेयर करें

मुख्य समाचार

विराट अच्छे कप्तान लेकिन रोहित उनसे बेहतर : गंभीर

नयी दिल्ली : भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व खिलाड़ी गौतम गंभीर ने टी-20 टीम कप्तानी पांच बार के आईपीएल विजेता रोहित शर्मा को सौंपने की आगे पढ़ें »

साढ़े चार महीनों में 22 कोविड-19 जांच करायी : गांगुली

मुंबई : बीसीसीआई अध्यक्ष और पूर्व भारतीय कप्तान सौरव गांगुली ने मंगलवार को खुलासा किया कि महामारी के बीच अपनी पेशेवर प्रतिबद्धताओं को पूरा करने आगे पढ़ें »

ऊपर