ताऊ ते का खतरा बढ़ा: कर्नाटक के 6 जिलों में असर, 4 की मौत

नई दिल्लीः गुजरात और महाराष्ट्र समेत पांच राज्यों पर अरब सागर में बन रहे चक्रवात ‘ताऊ ते’ का खतरा मंडरा रहा है। कर्नाटक के 6 जिलों पर इसका काफी बुरा असर पड़ा है। इन जिलों के 73 गांव इससे प्रभावित हुए हैं। राज्य में अब तक 4 लोगों की मौत हो चुकी है। इन 6 जिलों में से 3 समुद्री सीमा से सटे हैं। सभी में पिछले 24 घंटों से भारी बारिश हो रही है। यहां 90 किलोमीटर प्रतिघंटे की रफ्तार से हवा चल रही है। मुख्यमंत्री बीएस येदियुरप्पा हालात पर नजर बनाए हुए हैं।

मौसम विभाग के मुताबिक, तूफान गोवा के तटीय क्षेत्र से टकरा गया है। अब वह गुजरात की ओर तेजी से बढ़ रहा है। इस वजह से मुंबई सहित उत्तरी कोंकण में कुछ स्थानों पर रविवार से ही तेज हवा के साथ भारी बारिश हो सकती है। अलर्ट के चलते बृहन्मुंबई नगर निगम को कोविड केयर सेंटर से 580 मरीजों को सुरक्षित स्थानों पर शिफ्ट करना पड़ा।
बीकेसी से 243, दहिसर से 183 और मुलुंड से 154 मरीजों को निकाला गया।गंभीर चक्रवाती तूफान में बदलने की आशंकामौसम विभाग के मुताबिक, अगले 12 घंटों के दौरान इसके बहुत गंभीर चक्रवाती तूफान में बदलने की आशंका है। यह तूफान 18 मई की सुबह गुजरात के पोरबंदर और महुआ कोस्ट के बीच से गुजरेगा। इस बीच गृह मंत्री अमित शाह ने चक्रवात को लेकर अहम बैठक बुलाई। इसमें राहत और बचाव कार्यों की तैयारियों की समीक्षा की जा रही है। इस वर्चुअल बैठक में महाराष्ट्र और गुजरात के मुख्यमंत्रियों के अलावा दमन और दीव और दादरा नगर हवेली के अधिकारी भी इसमें शामिल हुए।

 

शेयर करें

मुख्य समाचार

5000 हेल्थ अस्टिटेंट को दी जाएगी मरीजों की देखभाल की ट्रेनिंग : केजरीवाल

नई दिल्ली : राज्यों ने जानलेवा कोरोना वायरस की संभावित तीसरी लहर से निपटने की तैयारी शुरू कर दी है। इसी क्रम में दिल्ली सरकार भी आगे पढ़ें »

वेट कंट्रोल के साथ आपके मन को शांत रखती हैं ये पांच छोटी-छोटी बातें

कोलकाताः मन अशांत रहने का असर हमारे खाने-पीने की आदतों पर भी पड़ता है। मौजूदा समय में जिस तरह दुनिया अस्त-व्यस्तता से गुजर रही है, उसकी आगे पढ़ें »

ऊपर