इस ‘वीडियो कॉल’ से मच रहा हड़कंप: एक बार फंसे तो तीन बार लुटेंगे

नई दिल्लीः देश ने कोरोना जैसी वैश्विक महामारी की दो लहर देखी हैं। लंबे समय तक ‘वर्क फ्रॉम होम’ चलता रहा है। टीचिंग, ट्रेनिंग, दफ्तर और मनोरंजन, यह सब मोबाइल फोन के कैमरे पर होने लगा। वीडियो कॉलिंग का चलन बढ़ गया। देश में कई जगहों पर सेक्स वर्कर के पास काम नहीं रहा। हैकर्स ने उन्हें अपने साथ लेकर लोगों की ‘सोशल डिजिटल रेपुटेशन’ के साथ खिलवाड़ करना शुरू कर दिया। एक ‘वीडियो कॉल’ ने मेवात से बंगाल तक हड़कंप मचा दिया। नेता-अभिनेताओं वाली मुंबई की हाई-क्लास सोसायटी हो या ‘दिल वालों की दिल्ली’ यहां के बहुत से लोग ‘वीडियो कॉल’ के जाल में फंस गए। एक बार जो फंसा, तो उसे तीन बार लुटना पड़ा। कोई दो हजार में तो कोई 10 हजार रुपये में इज्जत बचाने के लिए भागता रहा। दिल्ली-एनसीआर सहित देश के विभिन्न हिस्सों में ‘सेक्सटॉर्शन गैंग’ अब एक नए रूप में लोगों के सामने आ रहा है। इस गैंग में मेवात से बंगाल तक के लोग शामिल हैं। देश के प्रमुख साइबर एक्सपर्ट रक्षित टंडन और दिल्ली पुलिस साइबर सेल के डीसीपी अन्येश रॉय कहते हैं, देश में ‘सेक्सटॉर्शन’ के मामले बहुत तेजी से बढ़ रहे हैं। केवल ‘सावधानी’ ही बचाव है।
एक वीडियो कॉल से कैसे होता है ‘सेक्सटॉर्शन’
विभिन्न राज्यों के पुलिस संगठनों, केंद्रीय सुरक्षा बलों एवं जांच एजेंसियों में साइबर क्राइम को लेकर विशेष ट्रेनिंग दे रहे साइबर एक्सपर्ट रक्षित टंडन कहते हैं, ‘सेक्सटॉर्शन’ जैसे अपराध को अंजाम देने में पांच-छह सेकेंड लगते हैं। इसे ‘सोशल डिजिटल रेपुटेशन’ के नाम से भी जानते हैं। आपके पास वीडियो कॉल आती है, आप उसे अटैंड कर लेते हैं। स्क्रीन पर अश्लील वीडियो या पिक्चर आ जाती है। आपका मुंह, मोबाइल फोन कैमरे के सामने है। आप उसे बंद कर देते हैं। आप निश्चिंत हो गए कि बच गए। मान लेते हैं कि आपने चार सेकंड में ही सिस्टम बंद कर दिया था, लेकिन आपका चेहरा तो उनके पास चला गया। सेक्सटॉर्शन गैंग के सदस्य जिस वक्त आपके पास कॉल करते हैं, वे स्क्रीन रिकॉर्डर चालू कर देते हैं। कई बार यह भी होता है कि कोई व्यक्ति कुछ देर तक उस वीडियो को देख लेता है। दोनों ही स्थितियों में आप फंस गए। कुछ देर बाद आपके पास कॉल होती है। सामने वाला कहता है कि आपका अश्लील वीडियो हमारे पास है। आप अश्लील सामग्री देख रहे हैं, सेक्स वर्कर से चैट कर रहे हैं, फोन पर कुछ ऐसी सूचना मिलती हैं। आप हक्के-बक्के रह जाते हैं। हैकर कहता है कि आपको कुछ नहीं करना है, दस हजार रुपये इस खाते में डाल दें।
लोग शिकायत देने से डरते हैं
डीसीपी अन्येश रॉय के अनुसार, सेक्सटॉर्शन गैंग में कोई युवती नहीं होती है। इस गैंग के सदस्य आकर्षक दिखने वाली किसी युवती का फोटो इस्तेमाल करते हैं। फेसबुक पर नकली प्रोफाइल बनाते हैं। मान लें कि उन्होंने एक हजार लोगों को फ्रेंड रिक्वेस्ट भेजी है तो जाहिर सी बात है कि उनमें से कुछ लोग फ्रेंड रिक्वेस्ट स्वीकार कर लेते हैं। पहले तो गैंग के सदस्य मैसेंजर पर चैट करते हैं। बाद में व्हाट्सएप के मार्फत वीडियो चैट करने लगते हैं। वहां एक अश्लील वीडियो चला देते हैं। अगर ज्यादा निकटता हो गई तो गैंग की तरफ से टारगेट बने व्यक्ति को कपड़े उतारने के लिए उकसाते हैं। चूंकि स्क्रीन रिकॉर्डर तो चालू रहता है, इसलिए वह आदमी ट्रैप हो जाता है। रक्षित टंडन बताते हैं, गैंग के सदस्य जब आपसे बाते करते हैं तो उतनी ही देर में वे आपके सभी फेसबुक फ्रेंड्स का डाटा निकाल लेते हैं। सबसे पहले वे आपकी पत्नी और ससुराल में वह क्लिप भेजने की धमकी देते हैं। यहां पर सारा चक्कर इज्जत का होता है, इसलिए पीड़ित व्यक्ति सौदेबाजी कर लेता है। वह पुलिस या साइबर यूनिट को जानकारी देने से बचता है। नेता, डॉक्टरों के अलावा अब मध्यम वर्ग से जुड़े लोगों को बड़े स्तर पर ‘सेक्सटॉर्शन’ का शिकार बनाया जा रहा है।

 

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

पूजा के बाद कॉलेज – विश्वविद्यालयों खुल सकते है, छात्रों को जल्द लगेगी वैक्सीन

कोलकाता : पूजा के बाद कॉलेज - विश्वविद्यालय खुल सकते हैं। इसी क्रम में राज्य सरकार ने स्वास्थ विभाग से कहा है कि कॉलेज विश्वविद्यालयों आगे पढ़ें »

भाजपा की अपील : ‘बुर्का’ पहनकर आये मतदाताओं की हो पूरी जांच

भवानीपुर विधानसभा चुनाव : हाई कोर्ट में निर्णायक सुनवायी आज

पितृ पक्ष में इन संकेतों से जानें पूर्वज खुश हैं या नहीं

पैसों की तंगी से बचने के लिए करें आटे के ये उपाय, होगी मां लक्ष्मी की कृपा

मिनी भारत है भवानीपुर, यहीं से शुरू होगी दिल्ली की लड़ाई : ममता

इस उम्र की लडकियां चाहती है बिना कंडोम के सेक्स करना

चाहूं तो 3 महीने में बंगाल भाजपा को खत्म कर दूं लेकिन ऐसा नहीं करूंगा – अभिषेक

भाजपा सोच भी नहीं सकती कि ऐसे बड़े नेता आना चाहते हैं तृणमूल में – फिरहाद

भाजपा नेता के शव के साथ प्रदेश अध्यक्ष पहुंचे कालीघाट, पुलिस के साथ धक्का-मुक्की

ऊपर