महिला से एकतरफा प्यार में हैवानियत, बच्चे का अपहरण कर श्मशान में जिंदा जलाया

रायपुर : छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर में 4 साल के बच्चे का अपहरण और फिर उसे जिंदा जलाकर मारने का मामला सामने आया है। सिरफिरे युवक को पुलिस ने महाराष्ट्र से गिरफ्तार किया है। ऐसा बताया जा रहा है कि आरोपी ने एकतरफा प्यार में बच्चे को मार डाला। वह पड़ोसी महिला के दूसरे बच्चे को भी मारना चाहता था। बच्चों को मारकर वह महिला को हासिल करना चाहता था। पुलिस अभी मामले की जांच कर रही है।
उरला थाना क्षेत्र में 5 अप्रैल को रात में जयेंद्र चेतन ने सूचना दी कि उसका पड़ोसी पंचराम सुबह 10 बजे उसके घर आया और दोनों बेटों दिव्यांश चेतन (6 वर्ष) और हर्ष चेतन (4 वर्ष) को घूमाने के लिए बाइक पर लेकर गया। आधे घंटे बाद दिव्यांश को छोड़कर घर पर छोड़ दिया, लेकिन हर्ष चेतन को लेकर चला गया। काफी देर तक हर्ष के साथ पंचराम के वापस नहीं लौटने पर थाने में गुमशुदगी रिपोर्ट दर्ज कराई। साइबर सेल की मदद से आरोपी पंचराम को ट्रेस किया गया तो उसका लोकेशन नागपुर (महाराष्ट्र) मिला। पुलिस टीम ने 7 अप्रैल की रात नागपुर में पंचराम को हिरासत में लिया।
दूसरे बेटे को भी मारना चाहता था आरोपी
पंचराम ने पुलिस को बताया कि 5 अप्रैल को सुबह साढ़े 10 बजे बालक हर्ष चेतन को अपने साथ ले गया और बेमेतरा जिले के ग्राम हसदा स्थित श्मशान घाट में पेट्रोल छिड़कर आग लगाकार हत्या कर दी और वह महाराष्ट्र आ गया। आरोपी पंचराम की निशानदेही पर हर्ष का जला शव बरामद किया गया है। फोरेंसिक व पुलिस की टीम अभी मामले की जांच कर रही है। आरोपी ने पूछताछ में यह भी बताया कि वह पड़ोसी महिला के बड़े बेटे दिव्यांश को भी मारना चाहता था। हत्या की वजह महिला से एकतरफा प्रेम को बताया जा रहा है। वह बच्चों को मारकर महिला को हासिल करना चाहता था।

शेयर करें

मुख्य समाचार

चतुर्थी से महानगर की सड़कों पर सुरक्षा की कमान संभालेंगे पुलिस कर्मी

5 हजार पुलिस और 10 हजार अस्थायी होम गार्ड रहेंगे तैनात तीन शिफ्टों में काम करेंगे पुलिस कर्मी कोलकाता : कोविड काल के बाद इस साल आयोजित आगे पढ़ें »

शुगर से पाना चाहते हैं छुटकारा! आज से ही शुरू करें ये काम

कोलकाताः मौजूदा भाग दौड़ के दौर में शुगर की समस्या बेहद आम हो चली है। खराब खानपान और जीवनशैली के चलते शुगर के मरीजों की आगे पढ़ें »

ऊपर